This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Aligarh Poisonous Liquor Case : शराब माफिया ऋषि और विजेंद्र कपूर का एक और सहयोगी पकड़ा, तालानगरी में चलाता था फैक्ट्री

शराब माफिया ऋषि से पूछताछ के दौरान तथ्यों के सत्यापन के लिए पुलिस ने हरदुआगंज में पकड़ी गई फैक्ट्री के मालिक विजेंद्र कपूर को भी शनिवार को रिमांड पर लेकर पूछताछ की। इसके बाद दोनों के बीच का एक सहयोगी गौतम पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

Sandeep Kumar SaxenaSun, 13 Jun 2021 09:14 AM (IST)
Aligarh Poisonous Liquor Case : शराब माफिया ऋषि और विजेंद्र कपूर का एक और सहयोगी पकड़ा, तालानगरी में चलाता था फैक्ट्री

अलीगढ़, जेएनएन। शराब माफिया ऋषि से पूछताछ के दौरान तथ्यों के सत्यापन के लिए पुलिस ने हरदुआगंज में पकड़ी गई फैक्ट्री के मालिक विजेंद्र कपूर को भी शनिवार को रिमांड पर लेकर पूछताछ की। इसके बाद दोनों के बीच का एक सहयोगी गौतम पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस गौतम को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। गौतम यहां तालानगरी में घी की फैक्ट्री की आड़ में शराब बनाता था। कपूर बड़े माफिया, जबकि गौतम छोटे माफिया को केमिकल का ड्रम सप्लाई करता था।

यह है मामला

शराब सप्लायर विपिन यादव की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने हरदुआगंज में केमिकल की फैक्ट्री पकड़ी थी। इसका मालिक विजेंद्र कपूर है। पुलिस की अब तक की जांच में सामने आया है कि जिले के माफिया अनिल व ऋषि को कपूर ही केमिकल की सप्लाई देता था। जबकि मूलरूप से बुलंदशहर का रहने वाला गौतम विपिन, शिवकुमार आदि को सप्लाई करता था। कपूर ने साल्वेंट मंगाने का लाइसेंस ले रखा है। ऐसे में बरेली से वह डीएनएस (डी नेचर्ड साल्वेंट एल्कोहल) मंगाता था। कपूर को एक ड्रम 10 हजार रुपये में मिलता था, जिसे वह आगे 20 हजार के मुनाफे के साथ 30 हजार में सप्लाई करता था। इसी तरह गौतम कपूर से 15-20 हजार में ड्रम खरीदकर आगे 30 हजार तक बिक्री करता था। पुलिस ने गौतम को हिरासत में लिया। एसपी देहात शुभम पटेल ने बताया कि ऋषि और कपूर से पूछताछ में कई तथ्य सामने आए हैं। दोनों के बीच के एक सहयोगी गौतम को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। कपूर और गौतम को आमने-सामने बिठाकर भी पूछताछ की गई। इसमें गौतम ने कबूल किया है कि कपूर से ही डायरेक्ट ड्रम लेता था। कपूर ने भी गौतम, ऋषि व अनिल आदि को सप्लाई देने की बात स्वीकारी है। गौतम की फैक्ट्री से माल भी बरामद किया है।

गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ दबिश

गौतम के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने फरीदाबाद के मदन की गिरफ्तारी के लिए प्रयास तेज कर दिए हैं। शुक्रवार रात में ही टीमों ने हरियाणा में ताबड़तोड़ दबिश दीं। माना जा रहा है कि पुलिस मदन के करीब पहुंच गई है। शनिवार को इसे पकड़ा जा सकता है।

कपूर को बरेली लेकर जाएगी पुलिस

पूछताछ में सामने आए तथ्यों की पुष्टि के लिए पुलिस जल्द ही कपूर को बरेली लेकर जाएगी। जहां से कपूर केमिकल मंगाता था, वहां के स्टाफ व अन्य कर्मचारियों से बातचीत कर सत्यता का पता लगाया जाएगा। इसके लिए कपूर को फिर से रिमांड पर लिया जा सकता है।

भरतपुर व दिल्ली से आता था पैकिंग का सामान

शरााब माफिया ऋषि से पूछताछ में सामने आया है कि वह भरतपुर व दिल्ली के इलाकों से पैकिंग का सामान मंगाता था। बुलंदशहर से भी खाली बोतल आदि की सप्लाई आती थी। इसके अलावा जिले में अतरौली से भी पैकिंग का सामान ऋषि के पास आता था। ऋषि ने पूछताछ में कुछ अन्य ठिकाने भी बताए हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

Edited By: Sandeep Kumar Saxena

अलीगढ़ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!