This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Five Murder in Etah: पांच की मौत का राज क्‍या खोलेगा राजदार? पुलिस के हाथ लगा ये सुराग

Five Murder in Etah घर में क्या चल रहा है बाहरी शख्स जानता था सब कुछ। घरेलू कलह से परेशान रहती थी दिव्या की बहन बुलबुल भी।

Tanu GuptaSun, 03 May 2020 10:07 AM (IST)
Five Murder in Etah: पांच की मौत का राज क्‍या खोलेगा राजदार? पुलिस के हाथ लगा ये सुराग

एटा, जेएनएन। एटा शहर के मुहल्ला श्रंगार नगर में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हुई मौत की कहानी में एक किरदार और भी है जो घटना की मूल वजह का जानकार मगर पुलिस की नजर में इस वक्त राजदार है। आखिर हत्या और आत्महत्या की नौबत क्यों आ गई? राजदार की जुबां पूरा सच उगलेगी। पुलिस को काफी कुछ पता चल चुका है मगर वह पूरे साक्ष्यों के साथ पर्दाफाश करेगी। अधिकांश साक्ष्य जुटा लिए गए हैं, बस बिसरा व फॉरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है। यह राजदार परिवार के ही एक सदस्य के संपर्क में था।

24 अप्रैल की रात राजेश्वर प्रसाद पचौरी समेत उनके परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई थी। प्रारंभिक जांच में पुत्रवधू दिव्या द्वारा तीन सदस्यों की जहर देकर व एक साल के बेटे आरव की मुंह दबाकर हत्या कर खुद खुदकशी कर लेना सामने आया था। श्रंगार नगर कांड को लेकर सब जल्दी से जल्दी उस मूल वजह को जानना चाहते हैं जिसके कारण पांच लोगों की मौत हुई। पुलिस द्वारा की जा रही पड़ताल से काफी बातें साफ होती जा रहीं हैं। पुलिस सूत्रों से जानकारी मिली है कि घर में तनाव था इस बात को परिवार के सदस्यों के अलावा जिले से बाहर का भी एक शख्स जानता था। यह शख्स दिव्या का संपर्कित नहीं है मगर पर्दाफाश करने के लिए महत्वपूर्ण हो सकता है क्योंकि यह राजदार घटना के मूल कारण जानता है। यह भी बताया जा रहा है कि इस शख्स की भूमिका किसी को मारने या उसे उकसाने में नहीं है। वह तो सिर्फ इसलिए मूल वजह जानता है क्योंकि घर के अंदर से ही उस तक बातें पहुंचती थीं। सूत्र बताते हैं कि दिव्या और दिवाकर में झगड़ा होता था जिससे दिव्या की बहन बुलबुल भी परेशान रहती थी। जब सच से पर्दा हटेगा तो सब सामने आ सकता है।

जहर देने के बाद भी फोन का इस्तेमाल

पुलिस यह मान रही है कि परिवार के तीन सदस्यों को जहर देने के बाद भी एक मोबाइल फोन पर यह बातें चल रहीं थीं कि घर में बहुत तनाव है, यह बातें लाइव अंदाज में उस राजदार तक पहुंच रहीं थीं जिसकी भूमिका इस केस को खुलवाने में अपरोक्ष रूप से अहम रहेगी। यह तनाव दिव्या और दिवाकर के बीच बताया गया है। इसकी वजह एक दूसरे पर शक बताया जा रहा है। पर्दाफाश में यह भी सामने आएगा कि कौन किस पर किन कारण शक करता था। पुलिस मोबाइल डिटेल खंगाल रही है। तमाम नंबर ट्रेस किए गए हैं। इनमें दिव्या और उसकी बहन बुलबुल के फोन रिकार्ड भी शामिल हैं। पति दिवाकर की कॉल डिटेल भी निकाली गई है उसके संपर्कित रडार पर हैं।

चार की हत्या और एक आत्महत्या?

परिवार ने अज्ञात आरोपितों पर पांचों की हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बाहरी व्यक्ति द्वारा हत्या का कोई साक्ष्य नहीं मिला है, लेकिन यह भी सच है कि चार लोगों की हत्या तो हुई ही है और पुलिस की प्ररंभिक जांच में दिव्या को ही हत्या कर खुद खुदकशी करने का दोषी माना गया है।

पुलिस की टीमें मामले की गहनता से जांच कर रही है, पूरा सच सबके सामने लाया जाएगा, काफी गुत्थी सुलझा ली गई है शीघ्र ही पूरे मामले का पर्दाफाश किया जाएगा।

- सुनील कुमार सिंह, एसएसपी एटा 

आगरा में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!