This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Gram Panchayat Chunav: रजिस्टर लेकर रहिये तैयार, पाई-पाई का देना होगा हिसाब, जाने कितना कर सकते हैं प्रत्याशी खर्च

Gram Panchayat Chunav सभी प्रत्याशियों को दिया गया रजिस्टर तीन माह के भीतर व्यय का देना होगा विवरण। विवरण न देने पर होगी कार्रवाई राज्य निर्वाचन आयोग को भेजे जाएंगे नाम। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ड्यूटी करने वाले जोनल मजिस्ट्रेट सेक्टर मजिस्ट्रेट पीठासीन अधिकारियों का प्रशिक्षण बुधवार से शुरू।

Tanu GuptaWed, 07 Apr 2021 03:05 PM (IST)
Gram Panchayat Chunav: रजिस्टर लेकर रहिये तैयार, पाई-पाई का देना होगा हिसाब, जाने कितना कर सकते हैं प्रत्याशी खर्च

आगरा, जागरण संवाददाता। जिला पंचायत सदस्य हो या फिर क्षेत्र, ग्राम पंचायत सदस्य व ग्राम प्रधान। हर पद के प्रत्याशियों को पाई-पाई का हिसाब देना होगा। व्यय का विवरण न देने पर प्रत्याशियों पर सख्त कार्रवाई होगी। जिला प्रशासन ऐसे प्रत्याशियों की सूची राज्य निर्वाचन आयोग को भेजेगा। प्रत्याशियों को अयोग्य भी घोषित किया सकता है। एडीएम वित्त एवं राजस्व योगेंद्र कुमार ने बताया कि आयोग ने हर पद के लिए अधिकतम व्यय की सीमा निर्धारित कर रखी है। जिला पंचायत सदस्य की अधिकतम व्यय सीमा डेढ़ लाख रुपये है। नामांकन के साथ ही 20766 प्रत्याशियों को रजिस्टर दे दिए गए हैं। तीन माह के भीतर व्यय का विवरण देना होगा।

आगरा कालेज और क्वीन विक्टोरिया में प्रशिक्षण

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ड्यूटी करने वाले जोनल मजिस्ट्रेट, सेक्टर मजिस्ट्रेट, पीठासीन अधिकारियों का प्रशिक्षण बुधवार से शुरू हो गया। आगरा कालेज के विधि संकाय और क्वीन विक्टोरिया इंटर कालेज में कर्मचारियों को नौ अप्रैल तक प्रशिक्षण दिया जाएगा। सीडीओ जे. रीभा ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जाएगा।

ड्यूटी कटवाने के लिए पहुंचने लगे कर्मचारी 

मंगलवार को कलक्ट्रेट में ड्यूटी कटवाने के लिए 100 कर्मचारी पहुंचे। किसी ने खुद के बीमार होने की बात कही तो किसी ने शादी समारोह का कार्ड लगाया। हालांकि प्रशासनिक अफसरों ने किसी भी कर्मचारी की ड्यूटी नहीं काटी।

वरिष्ठ आइएएस अधिकारी धीरज साहू बने प्रेक्षक 

प्रदेश के वरिष्ठ आइएएस अफसर धीरज साहू को प्रेक्षक बनाया गया है। वह इसी सप्ताह आगरा आएंगे। धीरज परिवहन आयुक्त के पद पर तैनात हैं।

 यह है व्यय की अधिकतम धनराशि

- जिला पंचायत सदस्य, डेढ़ लाख रुपये

- क्षेत्र पंचायत सदस्य, 75 हजार रुपये

- ग्राम प्रधान, 75 हजार रुपये

- ग्राम पंचायत सदस्य, दस हजार रुपये

 

आगरा में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!