श्रीकृष्ण ने तोड़ा इंद्रदेव का अभिमान इसलिए कहलाए गिरधारी

चित्राहाट के पई गांव में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन

JagranPublish: Wed, 27 Oct 2021 06:05 AM (IST)Updated: Wed, 27 Oct 2021 06:05 AM (IST)
श्रीकृष्ण ने तोड़ा इंद्रदेव का अभिमान इसलिए कहलाए गिरधारी

जागरण टीम, आगरा। चित्राहाट के पई गांव में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में मंगलवार को श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं वर्णन किया और गोवर्धन पूजा का महत्व बताया।

कथावाचक रामबाबू द्विवेदी भक्तों को प्रवचन में कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने बचपन में गोपियों की मटकी तोड़ी, अपने सखाओं के साथ माखन चोरी कर खाया। गोपियों के चीर चुराये और उन्हें बताया कि संदेश दिया कि निर्वस्त्र होकर नदी में स्नान करना पाप है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार कान्हा ने लीला कर समाज को संदेश दिया, उसी प्रकार मनुष्य को भी सत्कर्म करते रहना चाहिए। गोवर्धन पूजा का महत्व बताते हुए कहा कि पहले इंद्र देव की पूजा होती थी लेकिन भगवान श्रीकृष्ण के कहने पर ब्रजवासियों ने गोवर्धन पर्वत की पूजा की। इससे क्रोधित हुए इंद्र ने वर्षा की तब भगवान ने अपनी तर्जनी अंगुली पर गोवर्धन पर्वत उठा लिया। इसलिए वे गिरधारी कहलाए। उन्होंने इंद्रदेव का अभिमान तोड़ दिया और ब्रजवासियों की रक्षा की। इस मौके पर प्रेम सिंह भदौरिया, परीक्षित ऊषा धीरेंद्र सिंह भदौरिया, हरेंद्र सिंह, माधवेंद्र सिंह, इंद्रेश सिंह भदौरिया आदि मौजूद रहे। गढ़ी उदयराज में रामलीला महोत्सव शुरू

जागरण टीम, आगरा। फतेहाबाद के गांव गढ़ी उदयराज में रामलीला महोत्सव की शुरुआत मंगलवार को की गई। इसका शुभारंभ विधायक जितेंद्र वर्मा ने किया। रामलीला कमेटी के अध्यक्ष ने विधायक को श्रीराम की प्रतिमा भेंट की। ग्राम पंचायत गढ़ी उदयराज में पिछले 40 वर्षों से रामलीला का आयोजन होता रहा है। इसमें ग्रामीण कलाकार ही पात्रों का जीवंत अभिनय करते हैं। इस बार रामलीला कमेटी के अध्यक्ष के तौर पर राजा भैया गुर्जर को चुना गया है। इस में मुख्य रुप से पुरुषोत्तम उपाध्याय, सत्य नारायण उपाध्याय, विनोद उपाध्याय, शैलेंद्र उपाध्याय, शिव शंकर शर्मा, मेहताब सिंह, दिलीप उपाध्याय, पंकज उपाध्याय, मशहूर गायक कलाकार नेमीचंद कुशवाहा, राम दिनेश शर्मा, अजय उपाध्याय, चंद्रकांत उपाध्याय, चंद्रशेखर उपाध्याय, मोहन पाठक, केशव देव शर्मा रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम