Australian open 2022: जीत से शुरुआत के साथ मेदवेदेव ने पुख्ता दावेदारी पेश की

मेदवेदेव को लाकसोनेन के खिलाफ पहले दो सेट में किसी तरह की चुनौती नहीं मिली लेकिन तीसरे सेट में लाकसोनेन ने मेदवेदेव के सामने मुश्किलें खड़ी की और सेट का फैसला टाई ब्रेकर में जाकर हुआ जहां मेदवेदेव ने बाजी मारी।

Viplove KumarPublish: Tue, 18 Jan 2022 07:07 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 07:07 PM (IST)
Australian open 2022: जीत से शुरुआत के साथ मेदवेदेव ने पुख्ता दावेदारी पेश की

मेलबर्न, एपी। दूसरी वरीयता प्राप्त रूस के डेनिल मेदवेदेव स्विटजरलैंड के हेनरी लाकसोनेन को 6-1, 6-4, 7-6 से हराकर वर्ष के पहले ग्रैंडस्लैम आस्ट्रेलियन ओपन के दूसरे दौर में पहुंच गए हैं।मेदवेदेव को लाकसोनेन के खिलाफ पहले दो सेट में किसी तरह की चुनौती नहीं मिली लेकिन तीसरे सेट में लाकसोनेन ने मेदवेदेव के सामने मुश्किलें खड़ी की और सेट का फैसला टाई ब्रेकर में जाकर हुआ जहां मेदवेदेव ने बाजी मारी।

मेदवेदेव ने पहला सेट आसानी से अपने नाम किया। लेकिन लाकसोनेन ने शुरुआती गेम में रूसी खिलाड़ी की सर्विस तोड़ी जिसके बाद वहां मौजूद दर्शकों ने उनकी सराहना की। हालांकि, मेदवेदेव ने तुरंत मैच को नियंत्रित किया और चार ब्रेक प्वाइंट बचाकर सेट अपने नाम किया। दूसरे सेट में लाकसोनेन ने थोड़े अच्छे खेल का प्रदर्शन किया लेकिन मेदवेदेव ने फिर अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए इस सेट को भी अपने नाम किया।

तीसरे सेट में लाकसोनेन इतनी आसानी से मेदवेदेव को जीत हासिल करने देने के मूड में नहीं दिखे और उन्होंने सभी को चौंकाते हुए बेहतर प्रदर्शन किया। टाईब्रेकर के दौरान 3-3 से स्कोर बराबर था, लेकिन मेदवेदेव ने फिर अगले चार अंक बटोरकर मुकाबला जीता। मेदवेदेव ने मैच में 10 एस सहित कुल 21 विनर्स लगाए, जबकि लाकसोनेन ने 23 विनर्स लगाए। हालांकि, लाकसोनेन ने रूसी खिलाड़ी के मुकाबले अधिक बेजां भूलें की जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा।

मेदवेदेव की नजरें आस्ट्रेलियन ओपन जीतकर मारत साफिन के बाद ऐसा करने वाले पहले रूसी खिलाड़ी बनने पर है। साफिन ने 2005 में यहां खिताब जीता था। मेदवेदेव 2021 में आस्ट्रेलियन ओपन के उपविजेता रहे थे। दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविक के नहीं खेलने से मेदवेदेव खिताब के प्रबल दावेदार में से एक हैं। रूस के आंद्रे रूबलेव ने इटली के जियांलुका मागेर को 6-3, 6-2, 6-2 से हराया।

वहीं 11वीं रैंकिंग वाले इटली के जानिक सिनेर ने पुर्तगाल के जोओ सोउसा को 6-4, 7-5, 6-1 से मात दी। विश्व रैंकिंग में 13वें स्थान पर काबिज अर्जेटीना के डिएगो श्वाटर््जमैन ने सर्बिया के फिलीप क्राइनोविक को 6- 3, 6-4, 7-5 से हराया। पांच बार के उपविजेता ब्रिटेन के एंडी मरे ने 21वीं वरीयता प्राप्त जार्जिजया के निकोलोज बेसिलाशविली को 6-1, 3-6, 6-4, 6-7, 6-4, से हराकर 2017 के बाद पहली बार आस्ट्रेलियन ओपन मुकाबले में मुकाबला जीता।

फर्नाडिज को मिली हार :

कनाडा की 19 वर्ष की लैला फनरंडिज को 133वीं रैंकिंग वाली वाइल्ड कार्डधारक आस्ट्रेलिया की मेडिसन इंग्लिस ने 6-2, 6-4 से हराया। तीसरी वरीयता प्राप्त स्पेन की गार्बाइन मुगुरूजा ने 77वीं रैंकिंग वाली फ्रांस की क्लारा बुरेल को 6-3, 6-4 से हराया। अब उनका सामना फ्रांस की अनुभवी एलिजे कोर्नेत से होगा जिन्होंने बुल्गारिया की विक्टोरिया टोमोवा को 6-3, 6-3 से मात दी।छठी वरीयता प्राप्त एस्तोनिया की एनेट कोंटावेट ने चेक गणराज्य की कैटरीना सिनियाकोवा को 6-2, 6-3 से हराया।

वहीं सातवीं वरीयता प्राप्त 2020 फ्रेंच ओपन चैंपियन पोलैंड की इगा स्वियातेक ने 123वीं रैंकिंग वाली ब्रिटिश क्वालीफायर हैरियेट डार्ट को 6-3, 6-0 से शिकस्त दी। पूर्व यूएस ओपन चैंपियन आस्ट्रेलिया की सैम स्टोसुर ने अमेरिका की राबिन एंडरसन को 6-7, 6-3, 6-3 से मात दी।

 

Edited By Viplove Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept