This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

साल 2022 तक 40 करोड़ डॉलर के पार होगा भारतीय मोबाइल गेमिंग बाजार- रिपोर्ट

भारतीय मोबाइल गेमिंग बाजार साल 2022 तक 40 करोड़ डॉलर के पार पर पहुंच जाएगा

MMI TeamMon, 06 Feb 2017 12:00 PM (IST)
साल 2022 तक 40 करोड़ डॉलर के पार होगा भारतीय मोबाइल गेमिंग बाजार- रिपोर्ट

नई दिल्ली। देश का मोबाइल गेमिंग बाजार तेजी से बढ़ोतरी कर रहा है। रिपोर्ट्स की मानें तो मोबाइल गेमिंग बाजार साल 2022 तक 40 करोड़ डॉलर के पार पर पहुंच जाएगा। साथ ही रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि फ्रीमियम और वचुर्अल रीयल्टी गेम्स की स्वीकार्यता बढ़ने से आने वाले सालों में यह सेक्टर तेजी से आगे बढ़ेगा। आपको बता दें कि फ्रीमियम एक ऐसा कारोबारी मॉडल है, जिसमें मूल सेवाएं मुफ्त में उपलब्ध कराई जाती हैं। यही नहीं, ज्यादा आधुनिक फीचर्स को इस्तेमाल करने के लिए भुगतान भी करना पड़ता है।

सीआईआई-टेकसाई की शोध रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल मोबाइल आधारित गेमिंग से 26.58 करोड़ डॉलर रेवन्यू मिला। साथ ही ऐसी उम्मीद लगाई जा रही है कि साल 2017 में यह 28.62 करोड़ डॉलर तक पहुंच जाएगा। आपको बता दें कि साल 2015 में देश में मोबाइल गेमर्स की संख्या 19.8 करोड़ थी, जिसके साल 2020 तक 62.8 करोड़ पहुंचने की उम्मीद है। वहीं, साल 2030 तक यह आंकड़ा 1.16 अरब पर पहुंचने की भी संभावना है।

इसके साथ ही रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि देश के गेमिंग सेक्टर में काफी बदलाव आया है। देश में वायरलैस कनेक्टिविटी में सुधार के चलते यूजर्स कंसोल गेमिंग से मोबाइल गेमिंग की तरफ तेजी से बढ़े हैं। कुल मिलाकर देखा जाए तो साल 2016 में भारत का गेमिंग सेक्टर 54.3 करोड़ डॉलर का था और इसके 2022 तक 80.1 करोड़ डालर हो जाने की उम्मीद है।

Edited By: MMI Team