This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बैंक फ्रॉड करने वाले इन 11 ऐप की हुई पहचान, फोन से तुरंत कर दें डिलीट, यहां देंखे पूरी लिस्ट

हाल ही में कुल 11 ऐप्स की पहचान की गई है जो बैंकिंग फ्रॉड की घटनाओं के लिए जिम्मेदार हैं। इन ऐप्स को नियमित अंतराल पर ऑफिशियल ऐप पर अपलोड किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक इन ऐप्स को अब तक करीब 3000 से ज्यादा बार इंस्टॉल किया गया है।

Saurabh VermaThu, 22 Jul 2021 10:59 AM (IST)
बैंक फ्रॉड करने वाले इन 11 ऐप की हुई पहचान, फोन से तुरंत कर दें डिलीट, यहां देंखे पूरी लिस्ट

नई दिल्ली, टेक डेस्क। Google Play Store पर मौजूद खतरनाक एंड्राइड ऐप्स की पहचान हुई है। ये ऐप्स जोकर मालवेयर से संक्रमित हैं, जो आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। साइबर सिक्योरिटी सिसर्चर Zscaler की ThreatLabz की रिपोर्ट में मंगलवार को कहा गया कि हाल ही में कुल 11 ऐप्स की पहचान की गई है, जो बैंकिंग फ्रॉड की घटनाओं के लिए जिम्मेदार हैं। इन ऐप्स को नियमित अंतराल पर ऑफिशियल ऐप पर अपलोड किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक इन ऐप्स को अब तक करीब 30,00 से ज्यादा बार इंस्टॉल किया गया है। अगर आपके फोन में यह ऐप मौजूद हैं, तो इन्हें तुरंत अनइंस्टॉल कर दें। 

बैकिंग फ्रॉड के लिए जोकर मालेवयर जिम्मेदार 

Zdnet.com की रिपोर्ट के मुताबिक जोकर मैलवेयर फैमिली एक फेमस वेरिएंट है, जिसे खासतौर पर एंड्राइड डिवाइस पर हमलों के लिए तैयार किया गया है। जोकर मालवेयर को जासूसी करने, मैसेज और SMS के जरिए जानकारी चोरी करने के लिए डिजाइन किया गया है। जोकर मैलवेयर से संक्रमित मोबाइल से बैंकिंग फ्रॉड को अंजाम दिया जाता है। साथ ही जोकर एंड्राइड अलर्ट सिस्टम के जरिए सभी नोटिफिकेशन का परमिशन हासिल किया जाता है। ट्रांसलेट फ्री, पीडीएप कंन्वर्टर स्कैनर, Delux की-बोर्ड के जरिए जोकर मालवेयर फोन में पहुंचते हैं।

इन ऐप्स को तुरंत कर दें फोन से अनइंस्टॉल 

  • Free Affluent Message
  • PDF Photo Scanner
  • delux Keyboard
  • Comply QR Scanner
  • PDF Converter Scanner
  • Font Style Keyboard
  • Translate Free
  • Saying Message
  • Private Message
  • Read Scanner
  • Print Scanner

इन डिवाइस पर हुये सबसे ज्यादा हमले 

बता दें कि पिछले दो से ढ़ाई माह में करीब 50 जोकर मालवेयर की पहचान की गई है। इसमें यूटीलिटी, हेल्थ जैसी कैटेगरी शामिल है। इसमें से टूल्स कैटेगरी बेस्ड 41.2% डिवाइस पर सबसे ज्यादा जोकर बेस्ड मैलवेयर के हमले हुये हैं। जबकि पर्सनलाइज्ड डिवाइस पर 21.6% हमले हुये हैं। वहीं कम्यूनिकेशन डिवाइस पर 27.5%, फोटोग्राफिक डिवाइस पर 7.8% और हेल्थ और फिटनेस पर सबसे कम 2% साइबर हमलों को अंजाम दिया गया है।