18 जून तक इन राशियों को करना पड़ेगा मुश्किलों का सामना, राहु-शुक्र की युति पड़ेगी भारी

Rahu Shukra Yuti शुक्र अपनी वर्तमान उच्च राशि मीन को छोड़कर मेष राशि में प्रवेश कर गए हैं। जहां पर राहु पहले से ही विराजमान है। राहु और शुक्र की ये युति कई राशियों के लिए हानिकारक साबित हो सकती हैं।

Shivani SinghPublish: Mon, 23 May 2022 03:36 PM (IST)Updated: Wed, 25 May 2022 08:15 AM (IST)
18 जून तक इन राशियों को करना पड़ेगा मुश्किलों का सामना, राहु-शुक्र की युति पड़ेगी भारी

नई दिल्ली, Rahu Shukra Yuti: 23 मई को शुक्र ग्रह मीन राशि से निकलकर मेष राशि में प्रवेश कर गए हैं। जहां पर वह 18 जून तक रहेंगे। बता दें कि मेष राशि में पहले से ही राहु ग्रह विराजमान है। ऐसे में राहु और शुक्र ग्रह की युति से क्रोध योग का निर्माण हुआ है। ज्योतिषों के अनुसार, यह योग कई राशियों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। जानिए एस्ट्रोलॉजर लता शर्मा से राहु-शुक्र की युति किन राशियों के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। 

कर्क राशि

शुक्र का गोचर आपकी कुंडली के दशम स्थान पर होगा जहां पर राहु भी मौजूद है। ऐसे में इस राशि के जातकों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। कार्यक्षेत्र में शत्रु पक्ष बलवान होगा विरोध का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए ऑफिस में किसी भी काम को सोच-समझकर करना चाहिए। इसके अलावा वैवाहिक जीवन में कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

18 जून तक इन राशियों पर बरसेगा पैसा, शुक्र की कृपा से हो जाएंगे धनवान

कन्या राशि

शुक्र का गोचर आपकी राशि से अष्टम स्थान पर होने जा रहा जहां पर राहु पहले से ही विराजमान है। ऐसे में इस राशि के जातकों को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है। इसके साथ ही इस राशि के लोगों को अदिक मेहनत करनी होगी लेकिन इसका फल अधिक नहीं मिलेगा। इसके साथ ही स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियां भी हो सकती है। किडनी संबंधी रोगों के अलावा मधुमेह आदि से पीड़ित लोगों को विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए।

Saptahik Rashifal 23 May To 29 May 2022: इस राशि के जातक वाद-विवाद से बचें, वहीं इन लोगों को हो सकती हैं धन हानि

मीन राशि

शुक्र का गोचर इस राशि में द्वितीय भाव में है जहां पर राहु पहले से ही विराजित हैं। ऐसे में इस राशि के लोगों के लिए राहु-शुक्र का युति भारी साबित हो सकती है। इसके अलावा शारीरिक कष्ट का सामना करना पड़ सकता है। आर्थिक स्थिति में परेशानी आ सकती है। खर्चों की अधिकता के चलते धन संचय करने में परेशानी रहेंगी। भूमि, भवन, वाहन आदि के कार्यों में रुकावट पैदा हो सकती है। इसके साथ ही घर के सदस्यों के बीच किसी न किसी बात पर विवाह होता रहेगा। क्रोध को नियंत्रित रखें बेवजह किसी बहस में न पड़े स्वयं पर नियंत्रण रखें। गलत खानपान के चलते स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों रह सकती है।

Pic Credit- Instagram/drshifaaliarora/mantram.siddh/

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।'

Edited By Shivani Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept