This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Amitabh Bachchan Birthday: आज है सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का जन्मदिन, जानें क्या कहते हैं इनके सितारे

Amitabh Bachchan Birthday सदी के महानायक कहे जाने वाले और प्रसिद्ध बॉलिवुड कलाकार अमिताभ बच्चन आज अपना 78वां जन्मदिन मना रहे हैं। इनका जन्म 11 अक्टूबर 1942 को इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश) में हुआ था। अमिताभ प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार हरिवंश राय बच्चन के सुपुत्र हैं।

Shilpa SrivastavaSun, 11 Oct 2020 09:54 AM (IST)
Amitabh Bachchan Birthday: आज है सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का जन्मदिन, जानें क्या कहते हैं इनके सितारे

Amitabh Bachchan Birthday: सदी के महानायक कहे जाने वाले और प्रसिद्ध बॉलिवुड कलाकार अमिताभ बच्चन आज अपना 78वां जन्मदिन मना रहे हैं। इनका जन्म 11 अक्टूबर 1942 को इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश) में हुआ था। अमिताभ प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार हरिवंश राय बच्चन के सुपुत्र हैं। इन्होंने लोकप्रियका 1970 के दशक के दौरान प्राप्त की और धीरे-धीरे भारतीय सिनेमा के इतिहास में इनका नाम सुनहरे अक्षरों में दर्ज हो गया। अमिताभ ने अपने करियर में दादासाहेब फाल्के पुरस्कार, राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और फिल्मफेयर पुरस्कार जीते हैं। ज्योतिषे के मुताबिक, अमिताभ बच्च्न का लग्न कुंभ है। यह स्थिर व पृथ्वी तत्व प्रधान लग्न है। पृथ्वी तत्व होने से ऐसे जातक जमीन से जुड़े होते है अर्थात जनता के मध्य रहना भी इस तत्व का कारक है। आइए जानते हैं अमिताभ बच्चन की कुंडली इनके बारे में क्या कहती है। लेकिन उससे पहले हम उन सभी को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हैं जो 11 अक्टूबर को अमिताभ बच्चन के साथ अपना जन्मदिन मना रहे हैं।

ज्योतिषाचार्य पं. दयानंद शास्त्री ने बताया कि अमिताभ बच्चन का लग्न कुंभ है। यह स्थिर व पृथ्वी तत्व प्रधान लग्न है। इस तत्व का होने के चलते ये जातक जमीन से जुड़े होते हैं। कुंभ लग्न में केतु स्वभाव से जिद्दी भी बना देता है। इससे इनकी आवाज में भारीपन आ जाता है। मिताभ आवाज के दम पर ही फिल्मों में सफल भी रहे। कुंडली के जिस भाव पर अधिकाधिक ग्रहों का प्रभाव पड़ता है वह अत्यधिक बलवान हो जाता है। अमिताभ के अष्टम भाव में उच्च के बुध को मिलाकर चार ग्रह स्थित हैं व द्वितीय भाव पर पांच ग्रहों की दृष्टि है। अष्टम भाव में चार ग्रहों की स्थिति से अष्टम भाव के राजयोग का निर्माण हो रहा है, जिसके फलस्वरूप वह अद्वितीय प्रतिभा, गुप्त शक्ति, दैवी संपदा व गूढ़ ज्ञान से संपन्न हैं। अष्टमेश उच्च राशि का होकर अष्टम भाव में ही स्थ्ति है। ज्ञान व ईश्वर कृपा का कारक गुरु उच्च का होकर वर्गोत्तमी है तथा द्वितीयेश व लाभेश होकर कीर्ति व व्यवसाय के दशम भाव और धन के द्वितीय भाव पर दृष्टि डाल रहा है।

अमिताभ की संभावित कुंडली

लग्नेश केंद्र में है और दशम, एकादश तथा धन भावों की स्थिति भी उत्तम है। फलस्वरूप उन्हें कैरियर में शीघ्रता से उन्नति मिली। भाग्य भाव में चंद्र की स्थिति तथा अष्टम भाव के राजयोग से उनकी कुंडली में भाग्योन्नति और धन वृद्धि के पूर्ण संकेत हैं। धनेश व लाभेश गुरु उच्च का होकर वर्गोत्तमी है। फलित के सुप्रसिद्ध ग्रंथ होरा शतक के अनुसार, शुक्र बारहवें भाव में, बारहवीं राशि (अर्थात् मीन) तथा स्वराशियों से बारहवीं राशियों अर्थात् मेष व कन्या में सर्वश्रेष्ठ फल देता है। इसके अनुसार इनके शुक्र को भी कुल मिलाकर श्रेष्ठ ही कहा जाएगा। इसके अतिरिक्त यह शुक्र उच्च के बुध के साथ होने से नीच भंग राजयोग को भी जन्म दे रहा है तथा साथ ही अष्टम भाव के राजयोग में भी सहायक है व चंद्र लग्नेश भी है। इन सभी ग्रह योगों के कारण बी.बी.सी के ऑन लाइन पोल ने उन्हें सुपरस्टार ऑफ मिलेनियम के रूप में प्रसिद्धि दिलाई।

इस समय शुक्र की महादशा चल रही है। यह दशा सन् 2014 से 2034 तक उनके जीवन में अनेक मुसीबतें लेकर आयेगी। इस दशा में उनको व उनकी पत्नी की सेहत व स्वभाव में परिवर्तन देखने को मिलेगा तथा पत्नी का गुस्सा बढ़ाने का काम करेगी तथा रुपये पैसे का ख़राब होना भी संभव होगा और अस्पताल के चक्कर भी काटने पड़ेंगे क्योकि यह दशा उनकी सेहत को पूरी तरह खराब व जोश गिराने का काम करेगी।

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। '