बाहों में छिपाकर रखूं तुझको
Wed, 23 Aug 2017 04:27 PM (IST)

बाहों में छिपाकर रखूं तुझको

सीने से लगाकर रखूं तुझको,

आओ कभी तुम ख्वाबों में मेरे

और मैं ख्वाबों में सजाकर रखूं तुझको,

जो होती नहीं कभी खत्म मोहब्बत

वही मोहब्बत बनाकर रखूं तुझको.

Tags: # shayari ,  # love shayri ,  # emotional shayri ,  # romantic shayri ,  # emotional shayri in hindi ,  # emotional love shayri ,