This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

चित्तौड़गढ़ जिले में गौ तस्करी की आशंका में मध्यप्रदेश के युवक की हत्या के मामले में दस गिरफ्तार

घायल युवक रताम्या निवासी पिंटू से पता चला कि उसका साथी पेटलाबद निवासी बाबू भील था। वह दोनों कृषि कार्य के लिए बैल खरीदने बेगूं आए और यहां से बैलों की खरीद के बाद अपने गांव लौट रहे थे। पता चलते ही नए पुलिस अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद गोयल हुए रवाना।

Vijay KumarTue, 15 Jun 2021 09:23 PM (IST)
चित्तौड़गढ़ जिले में गौ तस्करी की आशंका में मध्यप्रदेश के युवक की हत्या के मामले में दस गिरफ्तार

उदयपुर, संवाद सूत्र। संभाग के चित्तौड़गढ़ जिले में गौ—तस्करी की आशंका में मध्यप्रदेश के एक युवक की हत्या के मामले में पुलिस ने उन्नीस लोगों को नामजद किया है। जिनमें से दस लोगों को गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार को सभी को अदालत के निर्देश पर जेल भेज दिया गया। मिली जानकारी के अनुसार गिरफतार आरोपियों में रामपुरिया निवासी चुन्नीलाल पुत्र भंवरलाल धाकड़, बनवारी लाल पुत्र वगदीराम रेगर, सुशील पुत्र कन्हैयालाल धाकड़, बालकिशन पुत्र देवीलाल धाकड़, बाबूलाल पुत्र उदयलाल धाकड़, रायती निवासी गोपाल पुत्र चुन्नीलाल धाकड़, बीलखंडा मध्यप्रदेश निवासी कन्हैयालाल पुत्र शांतिलाल शर्मा, चेची निवासी दिनेश पुत्र लालूराम धाकड़, डबलु पुत्र शंकरलाल धाकड़ तथा योगेश पुत्र लालूराम सुथार शामिल हैं। जबकि अन्य नौ जनों की तलाश की जा रही है।

उल्लेखनीय है कि चित्तौड़गढ़ जिले के बेगूं थाना क्षेत्र में मोब लिचिंग (गौ तस्करी की आशंका) में बिलखंडा चौराहे पर कुछ लोगों ने एक पिकअप को रोककर उसमें सवार मध्यप्रदेश के दो युवकों से जमकर मारपीट की। जिनमें से एक की मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल युवक रताम्या निवासी पिंटू से पता चला कि उसका साथी पेटलाबद निवासी बाबू भील था। वह दोनों कृषि कार्य के लिए बैल खरीदने बेगूं आए थे और यहां से बैलों की खरीद के बाद अपने गांव लौट रहे थे।

चित्तौड़गढ़ के नए एसपी ने बेगूं में संभाला चार्ज

चित्तौड़गढ़ के नए पुलिस अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद गोयल को सोमवार को पदभार ग्रहण करना था। सोमवार सुबह जैसे ही बेगूं में हुई घटना का पता चला तो निर्वतमान पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव घटनास्थल पर रवाना हो गए। पुलिस अधीक्षक राजेंद्र गोयल भी सीधे घटनास्थल पहुंचे तथा मामले की जानकारी ली। जिसके बाद उन्होंने बेगूं थाने में ही पुलिस अधीक्षक का पदभार ग्रहण किया। उस समय उदयपुर रैंज के पुलिस महानिरीक्षक सत्यवीर सिंह भी वहां मौजूद थे।

जयपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!