This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Corona vaccine In Rajasthan: मांग के अनुरूप केंन्द्र ने नहीं भेजी वैक्सीन, राजस्थान में कोरोना का पहला टीका लगना बंद

Corona vaccine In Rajasthan मांग के अनुरूप केंन्द्र ने नहीं भेजी वैक्सीन राजस्थान में कोरोना का पहला टीका लगना बंद अजमेर में भी नहीं लगे टीके बुजुर्गो को बैरंग लौटना पड़ रहा है रघुशर्मा ने केन्द्र सरकार पर मांग के अनुरूप कोरोना की वैक्सीन नहीं भिजवाने का आरोप लगाया है।

Priti JhaTue, 09 Mar 2021 03:17 PM (IST)
Corona vaccine In Rajasthan: मांग के अनुरूप केंन्द्र ने नहीं भेजी वैक्सीन, राजस्थान में कोरोना का पहला टीका लगना बंद

अजमेर, जागरण संवाददाता। राजस्थान में सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना का पहला टीका लगाना बंद कर दिया है। केन्द्र सरकार से जब वैक्सीन प्राप्त होगी, तब टीकाकरण शुरू किया जाएगा। राजस्थान सरकार के पास अभी जो वैक्सीन शेष है उसे दूसरे डोज के लिए रखा गया है, क्योंकि व्यक्ति को दूसरा डोज लगना जरूरी है। मौजूदा स्टॉक को देखते हुए ही व्यक्तियों को टीके नहीं लगाए जा रहे हैं। अब वो ही व्यक्ति अस्पतालों में पहुंचे जिन्हें 28 दिन बाद दूसरा टीका लगना है।

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने केन्द्र सरकार पर मांग के अनुरूप कोरोना की वैक्सीन नहीं भिजवाने का आरोप लगाया है। डॉ रघु शर्मा ने मीडिया को बताया कि प्रदेशभर में वैक्सीन उपलब्ध करवाने के लिए उन्होंने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से भी बात की है। उन्होंने जल्द ही वैक्सीन उपलब्ध करवाने का भरोसा दिलाया है। शर्मा ने कहा कि अभी तक राजस्थान टीकाकरण में अव्वल था। अब तक 22 लाख पात्र व्यक्तियों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इस पर पिछडऩे का आरोप न लगे, इसलिए सार्वजनिक तौर पर बताया जा रहा है कि राजस्थान को मांग के अनुरूप वैक्सीन नहीं मिली है। शर्मा ने कहा कि प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण की माकूल व्यवस्था है, इसलिए लोग बड़ी संख्या में टीका लगवाने के लिए आ रहे हैं।

क्या राजनीति हो रही है

राजस्थान में पहला टीका लगाने का काम बंद किए जाने को लेकर लोगों में चर्चा है कि इसमें भी क्या राजनीति हो रही है । जानकार सूत्रों के अनुसार देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। केन्द्र राज्यों को वैक्सीन भिजवा भी रहा है। हो सकता है कि किन्हीं कारणों से वैक्सीन के पहुंचने में विलम्ब हो रहा हो। राजस्थान में अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार चल रही है। यदि वैक्सीन को लेकर कोई प्रदेश राजनीति करेगा तो इसका खामियाजा प्रदेश की जनता को ही भुगतना पड़ेगा।

अजमेर में भी नहीं लगे टीके

कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने के कारण 9 मार्च को अजमेर जिले में भी पात्र लोगों पहला डोज नहीं लगाया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केके सोनी ने बताया कि देर रात तक वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी। यदि वैक्सीन उपलब्ध होती है तो 10 मार्च को पहले की तरह टीके लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पूर्व निर्धारित तिथियों के अनुरूप कोरोना का दूसरा टीका पात्र व्यक्तियों के लगाया जा रहा है। दूसरे टीके के लिए सभी सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन उपलब्ध है। वहीं निजी अस्पतालों में डोज कम पड़ने बुजुर्गों को बैरंग लौटना पड़ रहा है। उनसे वैक्सीन उपलब्ध होने पर फोन कर सूचना देने के लिए कहा जा रहा है। 

जयपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!