Coronavirus: जोधपुर में कोरोना के बढ़ते मामलों ने बढ़ाई चिंता, स्वयंसेवी संस्थाओं ने जनता कर्फ्यू का किया आह्वान

Coronavirus राजस्थान में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों और अस्पतालों की लचर व्यवस्था के बीच जोधपुर में अब कोरोना से बढ़ती मौतों ने शहर की चिंता बढ़ा दी है।

Sachin Kumar MishraPublish: Fri, 18 Sep 2020 05:17 PM (IST)Updated: Fri, 18 Sep 2020 05:17 PM (IST)
Coronavirus: जोधपुर में कोरोना के बढ़ते मामलों ने बढ़ाई चिंता, स्वयंसेवी संस्थाओं ने जनता कर्फ्यू का किया आह्वान

जोधपुर, संवाद सूत्र। कोरोना काल में न जाने कितनी जिंदगियां काल कवलित हो गईं, कितनो ने अपने चहेतों को खो दिया, इसका अंदाजा लगा पाना बेहद मुश्किल है। राजस्थान के जोधपुर में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों और संक्रमण से मृत्यु दरों के आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं। यही कारण है कि लोग अब इस भयपूर्ण वातावरण में जीने को मजबूर है। राजस्थान में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजो की संख्या में जोधपुर पहले स्थान पर आ पहुचा है। कोरोना की भयावहता के बीच अब जोधपुर के 25 स्वयंसेवी संस्थानों ने आम जन से 36 घंटे के जनता कर्फ्यू की अपील की है। जिसको सोशल मीडिया समर्थन भी मिल रहा है। राजस्थान में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों और अस्पतालों की लचर व्यवस्था के बीच जोधपुर में अब कोरोना से बढ़ती मौतों ने शहर की चिंता बढ़ा दी है।

वहीं, जोधपुर सरकारी आदेशों में क्षेत्रवार कोरोना रिपोर्ट जारी नहीं करने के फरमान और अस्पतालों से वायरल हो रहे लोगों के वीडियो से दहशत भी आम जनजीवन मे घर कर रही है। पुलिस और निगम कर्मी सोशल सिस्टेंसिंग के नाम पर चालान काट राजस्व बढ़ाने में जुटे हैं। सरकारी अधिकारियों के पास बड़ी-बड़ी बैठकों के बाद मुख्यमंत्री के गृह नगर की जनता को देने के लिए सिर्फ आश्वासन ही हैं। कोई ठोस कदम नहीं हैं। अकेले जोधपुर में अब तक 250 से अधिक लोग कोरोना के कारण काल कलवित हुए हैं। पिछले एक पखवाड़े मे इसमें 100 लोगों की मौत का आंकड़ा जुड़ने से स्थिति और भयावह हो गई है। जोधपुर में संक्रमितों की संख्या भी अठारह हजार के पार जा चुकी है।

जोधपुर में कोरोना के बढ़ते कम्युनुअल स्प्रेड को रोकने के उद्देश्य से 25 से अधिक स्वयंसेवी संस्थानों ने जागरूक जन मंच के तहत आगामी 36 घंटो के लिए शनिवार और रविवार को जनता कर्फ्यू की घोषणा की है। जिसमे की आम जन से अपने प्रतिष्ठान बन रख घर मे ही रहने की अपील की गई है। संयोजक चंद्रशेखर पुरोहित ने बताया कि सभी सामाजिक संस्थाओं की तरफ से सभी दिवगंत आत्माओं को श्रद्धांजलि स्वरूप 19 सितंबर, शनिवार प्रातः आठ बजे से 20 सितंबर रविवार रात्रि आठ बजे तक 36 घंटे का स्वैच्छिक जनता कर्फ्यू का आह्वान किया गया है , जिससे की जन सहभागिता से कोरोना पर कुछ हद तक लगाम लगाया जा सके।

इन संस्थाओं ने जनता कर्फ्यू के समर्थन में की अपील

कोरोना के बढ़ते ग्राफ को लेकर आर्ट आफ लिविंग जोधपुर चेप्टर , हेल्पिंग हैंड्स सोसायटी, श्री सुमेर पुष्टिकर सीसे स्कूल, कामधेनु सेवा संगठन, विश्वकर्मा युवा संघ, जोधपुर रियल एस्टेट ब्रोकर एसोसिएशन, त्रिपोलिया बाजार मोती चौक व्यापार संघ, माली महासभा , आशाएं ( द रे ऑफ होप ), मिशन पर्यावरण, सामाजिक विकास व संरक्षण संस्थान, इरादा संस्थान ने इस आह्वान को समर्थन दिया है। साथ ही, रूपग पथ, नागरिक सुरक्षा समन्वय समिति, हमारा बचपन, प्रगति पर्यावरण व विकास, समिति फेमिना वेलफेयर सोसायटी, अभा पुष्टिकर सेवा परिषद, कायस्थ जनरल सभा, विश्व मानवाधिकार परिषद, मृत्युंजय सेवा संस्थान , द रॉयल्स सोसाइटी, मुस्कान ग्रुप ने भी इसमें भागीदारी की सहमति दी है।

जालोर जिले में लगाई धारा 144

संभाग के जालोर जिले में भी कोरोना बढ़ रहे आकंड़ों के बीच धारा 144 लगाई गई है। जालोर जिले कलेक्टर हिमांशु गुप्ता ने कोरोना के बढ़ते आंकड़ों के चलते जिले में धारा 144 लगाने के आदेश पारित किए हैं। इसके अलावा अन्य राज्यों से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग के भी आदेश दिए गए हैं, जिससे कि स्थिति स्पस्ट को सके। कोरोना गाइड लाइन के बने विशेष नियमों पर ही कार्य किये जाने के आदेश दिए गए हैं।

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम