Rajasthan: भागचंद चोटिया हत्याकांड का मुख्य आरोपित गिरफ्तार

Rajasthan भागचंद चोटिया की सरेराह गोलियां दाग कर हत्या करने के मुख्य आरोपित हनुमान सिंह चौधरी को पुलिस ने निकटवर्ती नागौर जिले के कुचील से गतरात को धर दबोचा। हनुमान सिंह मूल रूप से मदनगंज किशनगढ़ रामनेर की ढाणी का रहने वाला है। हत्या के बाद से वह फरार था।

Sachin Kumar MishraPublish: Sat, 24 Oct 2020 08:43 PM (IST)Updated: Sat, 24 Oct 2020 08:43 PM (IST)
Rajasthan: भागचंद चोटिया हत्याकांड का मुख्य आरोपित गिरफ्तार

अजमेर, संवाद सूत्र। Rajasthan: हरमाड़ा के सरपंच पुत्र व पूर्व विधायक नाथूराम सिनोदिया के पुत्र भंवर सिनोदिया की हत्या के प्रमुख गवाह भागचंद चोटिया की सरेराह गोलियां दाग कर हत्या करने के मुख्य आरोपित हनुमान सिंह चौधरी को पुलिस ने निकटवर्ती नागौर जिले के कुचील से गतरात को धर दबोचा। हनुमान सिंह मूल रूप से मदनगंज किशनगढ़ रामनेर की ढाणी का रहने वाला है। हत्या के बाद से वह फरार था। पुलिस सूत्रों के अनुसार, जिला पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप के निर्देशन में पुलिस की टीम ने मुखबीर की सूचना पर गांव कुचील में बीती रात दबिश देकर उसे गिरफ्तार कर लिया। गत रविवार को भंवर सिनोदिया हत्याकांड के मुख्य गवाह व हरमाड़ा सरपंच के पुत्र भागचन्द चोटिया की गोलीमार कर हत्या कर दी गई थी।

आरोपित मोटरसाइकिल पर सवार थे। आरोपितों ने चोटिया की पहले रैकी की और बाद में उसे मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने घटना स्थल के आसपास के सभी सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर उनसे आरोपितों की पहचान की। उनमें से चार आरोपितों को पुलिस ने पहले ही कब्जे में ले लिया है। पकड़े गए आरोपितों ने ही फरार आरोपित हनुमान सिंह चौधरी के वारदात में शामिल होने की सूचना दी थी। हनुमान ने ही चोटिया पर गोलियां भी चलाई थी। पुलिस ने हनुमान को गत रात को दबोच लिया गया। इस हत्या की योजना सिनोदिया हत्याकांड के आरोपित बलवा ने जेल में बंद रहते बनाई थी। पुलिस के अनुसार, हत्या के आरोपित चोटिया की बढ़ती राजनीतिक व आर्थिक तरक्की से रंजिश रखने लगे थे।

वहीं, तीर्थ नगरी पुष्कर पुलिस ने नौ किलो 500 ग्राम गांजा के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया है। पुलिस मादक पदार्थ के खिलाफ इन दिनों पुष्कर में अभियान चला रही है। पुष्कर में देशी-विदेशी पर्यटकों के आवागमन के दृष्टिगत पनपे पर्यटन उद्योग में मादक पदार्थों की भी काफी डिमांड रहती है। यहां बढ़ते होटल व्यवसाय के साथ मादक पदार्थों के अच्छे कारोबार के रहते पुष्कर मादक तस्करों को ट्रांजिट पाइंट भी बन गया है।

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept