This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK
  • POWERED BY
    Pokerbaazi

हेडकांस्टेबल का बेटा नाबालिग लड़की को दो दिन तक बंधक बनाकर करता रहा दुष्कर्म

हेड कांस्टेबल के बेटे ने नाबालिग लड़की का अपहरण किया और दो दिन तक उससे दुष्कर्म करता रहा। पुलिस के पास मामला पहुंचा तो समझौते का दबाव बनाया जाने लगा।

Kamlesh BhattSat, 14 Apr 2018 08:50 PM (IST)
हेडकांस्टेबल का बेटा नाबालिग लड़की को दो दिन तक बंधक बनाकर करता रहा दुष्कर्म

जेएनएन, तरनतारन। घर पर नाबालिग लड़की को अकेल देखकर हेड कांस्टेबल ने उसका अपहरण कर लिया। दो दिन तक वह उसे बंधक बनाकर उससे दुष्कर्म करता रहा। मां को जब इसका पता चला तो उसने उसे बरामद किया। वह पुलिस के पास पहुंची तो पुलिस ने नाबालिग लड़की को रातभर थाने में रखकर प्रताड़ित किया। पीड़िता की मां ने एसएसपी को शिकायत दी, जिसके बाद मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। आरोप है कि लड़की को बयान बदलने के लिए मजबूर किया गया।

पीड़िता की मां के अनुसार वह किसी काम से घर से बाहर गई थी। घर पर उसकी 16 साल की बेटी अकेली थी। इसी दौरान हेड कांस्टेबल के बेटे करण ने बेटी को घर से अगवा कर लिया। वह उसे अपने दोस्त के घर ले गया और बंधक बनाकर दो दिन तक दुष्कर्म करता रहा। मां ने बताया कि जब वह घर लौटी तो बेटी गायब थी। उसे पता चला कि करण ने बेटी को अगवा किया है।

वाल्मीकि सभा के अध्यक्ष हरचंद सिंह बैका की मदद से बेटी को बरामद किया गया। वह सहमी हुई थी। पुलिस को शिकायत दी तो एएसआइ सुरिंदर कुमार बेटी को पूछताछ के लिए थाना भिखीविंड ले गया। वहां पूरी रात उसे बयान बदलने के लिए प्रताड़ित किया गया और पिटाई की। दबाव बनाया कि वह ये बयान दे कि करण के साथ मर्जी से गई थी। वूमेन सेल भिखीविंड की इंचार्ज एएसआइ बलविंदर कौर की मौजूदगी में ये सब हुआ।

क्या कहती है पुलिस

  • लड़की को बयान देने बुलाया था, लेकिन मां ने खतरा महसूस करते हुए लड़की को थाने में रात रखने के लिए कहा था। आरोप बेबुनियाद हैं।  सुरिंदर कुमार, एएसआइ

---

  • आरोप गलत हैं। महिला पुलिस की मौजूदगी में लड़की के बयान दर्ज किए गए। प्रताड़ना और मारपीट की बात झूठ है।  बलविंदर कौर, इंचार्ज वूमेन सेल भिखीविंड

---

  • शिकायत मिलने के बाद थाना प्रभारी को एफआइआर दर्ज करने के लिए कहा है। पीड़िता को रात में थाने में रखने व मारपीट की जांच रिपोर्ट डीएसपी भिखीविंड सुलक्खण सिंह मान से मांगी गई है। आरोप साबित हुए तो कड़ी कार्रवाई करेंगे। दर्शन सिंह मान, एसएसपी

यह भी पढ़ेंः शादी का झांसा दे नाबालिग लड़की को साथ ले गया युवक, तीन दिन बाद ही छोड़ गया घर

Edited By Kamlesh Bhatt

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

तरनतारन में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!