पहली लिस्ट में प्रत्याशी की घोषणा नहीं, कार्यकर्ता निराश

श्री आनंदपुर साहिब विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रत्याशी की घोषणा के लिए सभी में उत्सुकता बनी हुई है। उम्मीद की जा रही थी कि वीरवार को घोषणा हो जाएगी लेकिन शुक्रवार को भी प्रत्याशियों की घोषित पहली सूची में आनंदपुर साहिब विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी की घोषणा नहीं हो पाई।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 10:34 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 10:34 PM (IST)
पहली लिस्ट में प्रत्याशी की घोषणा नहीं, कार्यकर्ता निराश

सुभाष शर्मा, नंगल: श्री आनंदपुर साहिब विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रत्याशी की घोषणा के लिए सभी में उत्सुकता बनी हुई है। उम्मीद की जा रही थी कि वीरवार को घोषणा हो जाएगी, लेकिन शुक्रवार को भी प्रत्याशियों की घोषित पहली सूची में आनंदपुर साहिब विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी की घोषणा नहीं हो पाई। इंटनरेट मीडिया पर प्रत्याशी के चयन की वायरल खबरें लगातार मतदाताओं तक उत्सुकता को बढ़ा रही हैं। हालांकि यहां से सबसे पहले आम आदमी पार्टी, उसके बाद कांग्रेस फिर शिरोमणि अकाली दल बसपा गठबंधन ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है। इन सभी ने अपना चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया है, लेकिन पिछले विधानसभा चुनाव की तरह इस बार भी इस सीट से भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी की घोषणा व चुनाव प्रचार में पीछे नजर आ रही है। प्रत्याशियों की घोषणा न हो पाने के कारण चुनाव प्रचार पूरी तरह से ठप पड़ा है। दो गुटों में बंटी भाजपा में टिकट के दावेदार लगातार अपनी सक्रियता तो दिखा रहे हैं, लेकिन अभी तक आक्रामक चुनाव प्रचार कहीं नजर नहीं आ रहा है। 20 फरवरी को होने जा रहे मतदान के लिए मात्र 30 दिन बचे हैं। ऐसे में विपक्ष में बड़ी पार्टी मानी जा रही भाजपा अभी तक चुनाव प्रचार में सबसे पीछे नजर आ रही है। ये हैं टिकट के दावेदार भाजपा के टिकट के दावेदारों में शामिल जितेंद्र सिंह अठवाल, डा. परमिदर शर्मा, राजेश चौधरी, अरविद मित्तल, राकेश शर्मा पम्मी, प्रतीक आहलूवालिया, बलराम पराशर पार्टी हाईकमान की ओर से प्रत्याशियों की घोषणा की प्रतीक्षा कर रहे हैं। पिछली बार भी प्रत्याशी चयन में पिछड़ी थी भाजपा

2017 में चार फरवरी को हुए विस चुनाव के लिए 18 दिन पहले 16 जनवरी को भाजपा की ओर से डा. परमिदर शर्मा को प्रत्याशी बनाने की घोषणा की गई थी। पूर्व कैबिनेट मंत्री मदन मित्तल का टिकट कट गया था। कम समय में चुनाव प्रचार के लिए वोटरों से संपर्क करने के चुनौती भरे कार्य में पार्टी सफल नहीं हो पाई। इस बार अभी चुनाव के लिए 30 दिन शेष हैं, लेकिन विधानसभा क्षेत्र में 1000 करोड़ की धनराशि से विकास करवाने का दावा कर रहे कांग्रेस से चार बार जीत हासिल कर चुके दिग्गज प्रत्याशी एवं स्पीकर राणा केपी सिंह को टक्कर देने के लिए भाजपा को कड़ी मशक्कत करनी पड़ेगी। भाजपा के टिकट घोषणा को लेकर उत्सुक भाजपा वर्कर चंद्र कुमार बजाज, नवीन पुरी, विपन शर्मा आदि का कहना है की पार्टी हाईकमान को जल्द श्री आनंदपुर साहिब विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी की घोषणा कर देनी चाहिए, ताकि चुनाव प्रचार निर्धारित समय अवधि में पूरा किया जा सके। 2017 में यह रहे थे चुनाव परिणाम--- प्रत्याशी --- पार्टी -- मत राणा केपी सिंह (कांग्रेस)—60800

डा. परमिदर शर्मा (भाजपा)—36919

डा. संजीव गौतम (आप)—30304

नितिन नंदा (आजाद)—2092

गुरचरण खालसा (बसपा)—1442

महेंद्र सिंह (सीपीएम)—1026

प्रीतम सिंह (आजाद)—602

सुभाष शर्मा (पंजाब डेमोक्रेटिक पार्टी)—518

हरभजन सिंह शिअद (अमृतसर)—517

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम