टूरिस्ट बसें पलटीं, एक सवार लड़की की मौत, 12 घायल

कीरतपुर साहिब-बिलासपुर हाईवे पर कीरतपुर साहिब के साथ सटे गड़ामोड़ा गांव के पास रविवार सुबह मनाली से कीरतपुर साहिब की तरफ आ रही एक टूरिस्ट बस अचानक असंतुलित होने के बाद पलट गई।

JagranPublish: Sun, 02 Jan 2022 08:11 PM (IST)Updated: Sun, 02 Jan 2022 08:11 PM (IST)
टूरिस्ट बसें पलटीं, एक सवार लड़की की मौत, 12 घायल

जागरण टीम, रूपनगर, कीरतपुर साहिब: कीरतपुर साहिब-बिलासपुर हाईवे पर कीरतपुर साहिब के साथ सटे गड़ामोड़ा गांव के पास रविवार सुबह मनाली से कीरतपुर साहिब की तरफ आ रही एक टूरिस्ट बस अचानक असंतुलित होने के बाद पलट गई। जब इस दौरान हादसे में घायल हुए लोगों को बस से निकाला जा रहा था, तो मनाली से ही आ रही एक अन्य टूरिस्ट बस का चालक अचानक सामने पलटी बस को देख घबरा गया, जिसके बाद यह बस दूसरीे बस से निकाले जा रहे लोगों पर जा चढ़ी। इस हादसे में मुंबई की रहने वाली एक लड़की की मौत हो गई है, जबकि महाराष्ट्र के ही 12 लोग घायल हुए हैं। दोनों बसों से सुरक्षित निकाले गए लड़के व लड़कियों वे बताया कि 80 लड़के- लड़कियां मुंबई से मनाली के लिए रेल यात्रा करते हुए निकले थे। 26 दिसंबर को अंबाला पहुंचने के बाद उन्होंने पहले से बुक की गई दो टूरिस्ट बसों में अपनी मनाली यात्रा शुरू की थी। रविवार को मनाली घूमने के बाद कीरतपुर साहिब होते हुए अमृतसर जा रहे थे, कि यह हादसा हो गया। जानकारी के अनुसार सबसे आगे बस पीबी-01 ए-9912 चल रही थी, जबकि दूसरी बस उसके पीछे थी, जो स्वारघाट के पास कुछ समय के लिए रुक गई थी। पहली बस जब गांव गरामौड़ा के पास पहुंची, तो बस का चालक संतुलन खो गया, जिसके चलते बस बीच सड़क में पलट गई। इस दौरान आसपास के लोग मौके पर पहुंचे तथा बस में फंसे लड़के व लड़कियों को निकालना शुरू किया।

हादसे की सूचना मिलते ही कीरतपुर साहिब के थाना प्रभारी सुमित मोर तथा स्वारघाट हिमाचल के थाना प्रभारी बलबीर सिंह अपनी अपनी टीमों के साथ मौके पर पहुंच गए। इसी बीच मौके पर पहुंची एंबुलेंस से घायलों को पीएचसी कीरतपुर साहिब तथा सिविल अस्पताल आनंदपुर साहिब पहुंचाया गया। पुलिस के अनुसार घायलों की संख्या 12 है । उधर सुरक्षित बचे लड़के व लड़कियां पलटी बस से अभी अपना सामान निकाल ही रहे थे कि दूसरी टूरिस्ट बस डीएल-01 पीडी-0404 आ गई तथा जब इस बस के चालक ने अचानक सड़क के बीच पलटी बस को देखा से बस से नियंत्रण खो गया, जिसके चलते बस सड़क के किनारे खड़े लड़के व लड़कियों के तरफ मुड़ गई और एक लड़की इसकी चपेट में आ गई। जिससे उसकी मौत हो गई। बस के नीचे आई लड़की के शव को एक घंटे की कड़ी मेहनत के बाद निकाला गया। शव को हिमाचल पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए बिलासपुर भेज दिया है। मौके पर बुलाई गई मशीनों की सहायता से लगभग पांच घंटे की मेहनत के बाद दोनों बसों को सड़क के किनारे किया गया। हादसे के कारणों की जांच की शुरू: एसपी इधर मौके पर पहुंचे बिलासपुर के एसपी एसआर राणा ने कहा कि हादसे के कारणों की जांच शुरू कर दी गई है। अगर हादसा चालकों सकी लापरवाही कारण हुआ पाया गया, तो उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। अगर हादसा सड़क बनाने वाली कंपनी की लापरवाही कारण हुआ पाया गया, तो कंपनी के खिलाफ बनती कार्रवाई की जाएगी। उनके अनुसार मरने वाली लड़की की पहचान रुखसीन (23) पुत्रा आदिल मादोन वासी ए-2002, पत्ती जेवेलस पिपल वड़ी, नवाकल, प्रेस रोड़ मुंबई के रूप में हुई है। घायलों में जैनब, काबिया, हितिका, करुणा, रिया सहित अन्य हैं, जिनकी आयु 24 से 26 के बीच है। हादसे की सूचना मिलते ही कीरतपुर साहिब के गुरुद्वारा पातालपुरी साहिब के मैनेजर भाई बलविदर सिंह चाय तथा लंगर लेकर अपनी टीम सहित मौके पर पहुंच।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept