भाजपा के आरोपों का मेयर ने दिया जवाब, कहा- तीन हजार नहीं 2072 रुपये है फाक्स ट्री की कीमत

टेंडर उन्होंने नहीं करवाया था। फाक्स ट्री लगाने का टेंडर पिछले वर्ष 17 नवंबर को हुआ था जिसके मुताबिक इसकी कीमत 1600 रुपये है। इसके अलावा इस पर 12 फीसद जीएसटी 10 फीसद कांट्रैक्टर का मुनाफा एक फीसद लेबर सेस को जोड़ने के बाद इसकी कीमत 2072 रुपये बैठती है।

JagranPublish: Sat, 25 Sep 2021 04:00 AM (IST)Updated: Sat, 25 Sep 2021 04:00 AM (IST)
भाजपा के आरोपों का मेयर ने दिया जवाब, कहा- तीन हजार नहीं 2072 रुपये है फाक्स ट्री की कीमत

जागरण संवाददाता, पठानकोट: शहर पठानकोट के डिवाइडरों पर लगे फाक्स ट्री की खरीद को लेकर भाजपा की तरफ से लगाए गए आरोपों का जवाब देने के लिए मेयर पन्ना लाल भाटिया ने प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया।

उन्होंने कहा कि इसका टेंडर उन्होंने नहीं करवाया था। फाक्स ट्री लगाने का टेंडर पिछले वर्ष 17 नवंबर को हुआ था, जिसके मुताबिक इसकी कीमत 1600 रुपये है। इसके अलावा इस पर 12 फीसद जीएसटी, 10 फीसद कांट्रैक्टर का मुनाफा, एक फीसद लेबर सेस को जोड़ने के बाद इसकी कीमत 2072 रुपये बैठती है। तीन हजार की बात कौन कह रहा है इसका उन्हें नहीं पता। वहीं प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद कंपनी से 3.60 फीसद छूट भी लेनी है जो अभी निगम के खाते में आनी है।

उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है इसलिए वह ऐसी मनगढंत बाते बनाकर जनता को भ्रमित कर रहा है। इस दौरान उनके साथ निगम के सुपरिटेंडिग इंजीनियर सुरजीत सिंह भी थे।

मेयर पन्ना लाल भाटिया ने कहा कि आज यह पौधे शहर की सुंदरता को चार चांद लगा रहे हैं, जिसे शायद भाजपा नेता सहन ही नहीं कर पा रहे हैं। भाजपा ने अपनी निगम के समय में शहर के लिए कुछ भी नहीं किया, जो शायद बताने की जरूरत नहीं है। अब शहर के हित में काम हो रहे हैं तो उन्हें इसमें भ्रष्टाचार नजर आने लगा है। एंट्री गेट कहां लगना चाहिए इसके लिए भाजपा से पूछने की जरूरत नहीं: मेयर

एंट्री गेट पर मेयर पन्ना लाल भाटिया ने कहा कि उनसे पहले भाजपा पांच साल निगम पर काबिज थी तो उन्होंने कांग्रेस पार्षदों से पूछ कर कितने काम किए। एक भी नहीं। भाजपा मेयर अपने समय दौरान केवल भाजपा पार्षदों की राय लेकर ही सारे काम करवाते थे। कांग्रेस शहर में विकास कार्य करवाने में विश्वास रखती है। एंट्री गेट कहां लगना चाहिए इसके लिए भाजपा से पूछने की ज्यादा जरूरत नहीं है। जब एंट्री गेट बन जाएगा उसका पूरा ब्यौरा भी वह बताएंगे न कि चुप करके बैठ जाएंगे। इसलिए, इसे तूल देने के बजाय काम होने दीजिए।

सार्वजानिक किया जाए टेंडर : एडवोकेट मन्हास

मामले में भाजपा के जिला प्रवक्ता एडवोकेट कुलभूष्ण मन्हास ने कहा कि टेंडर पिछले साल होने की मेयर भाटिया जो बात कह रहे हैं वह शायद भूल रहे हैं कि उस समय निगम का सारा कामकाज विधायक अमित विज देख रहे थे। उन्होंने कहा कि वह 2100 रुपये के पौधे की बात कर रहे हैं तो उसके रिकार्ड को सार्वजानिक क्यों नहीं करते। निगम के जितने भी विकास कार्य होते हैं उनमें विधायक और उनके भाई आगे होते हैं और वह मेयर होकर भी पीछे रहते हैं।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम