रात भर बिजली गुल, सुबह नहीं मिला पानी, भरोली कलां व खुर्द के लोगों का प्रदर्शन

रोष स्वरूप दोनों गांवों के लोगों ने रविवार को पावरकाम के खिलाफ रोष प्रदर्शन कर नाराजगी जताई। लोगों ने कहा कि रात जहां बिना बिजली के गुजारी वहीं सुबह पानी की सप्लाई न मिलने के कारण दिनचर्या प्रभावित हुई। लोगों की छुट्टी का मजा भी किरकिरा हो गया।

JagranPublish: Sun, 22 May 2022 06:36 PM (IST)Updated: Sun, 22 May 2022 06:36 PM (IST)
रात भर बिजली गुल, सुबह नहीं मिला पानी, भरोली कलां व खुर्द के लोगों का प्रदर्शन

जागरण संवाददाता, पठानकोट: कुछ दिन राहत के बाद फिर से बिजली कटौती शुरू हो गई है। शहरों में तो स्थिति अभी ठीक है, लेकिन ग्रामीण एरिया में बिजली कटौती से लोगों का हाल बेहाल है। निकटवर्ती गांव भरोली खुर्द व कलां में शनिवार रात बिजली गुल रही। रोष स्वरूप दोनों गांवों के लोगों ने रविवार को पावरकाम के खिलाफ रोष प्रदर्शन कर नाराजगी जताई। लोगों ने कहा कि रात जहां बिना बिजली के गुजारी, वहीं सुबह पानी की सप्लाई न मिलने के कारण दिनचर्या प्रभावित हुई। लोगों की छुट्टी का मजा भी किरकिरा हो गया। गांववासियों ने पावरकाम को अपनी कार्यप्रणाली में सुधार करने की बात कही है। ऐसा न करने पर हाईवे जाम करने की चेतावनी दी है। थोड़ी सी हवा चलते ही गुल हो जाती है बिजली

गांववासी भरोली कलां के जरनैल, कुलदीप कुमार, हरबंस लाल, विक्की लाला, विजय कुमार रोहित, मोहित, मंगू राम, जोध राज, चंद्रशेखर, पवन कुमार, पवन प्रजापति, वेद प्रकाश शर्मा आदि ने बताया कि पिछले एक सप्ताह के भीतर दो दिन लोगों ने सारी रात बिना बिजली के ही गुजारी। थोड़ी सी हवा चलती है तो पावरकाम सप्लाई बंद कर देता है। शनिवार शाम को भी करीब साढ़े सात बजे हल्की-हल्की हवा चलने के बाद पावरकाम ने बिजली सप्लाई रोक दी। महामाई के जागरण के लिए आधी रात को मंगवाना पड़ जेनरेटर

ग्रामीणों ने बताया कि गांव में एक जागरण था। संस्था के सदस्य पिछले एक महीने से तैयारी कर रहे थे। बिजली जाने के बाद रात 10 बजे तक लड़कों ने पावरकाम कर्मियों व अधिकारियों से बिजली के बारे में स्थिति जानी। हर बार जल्दी बिजली आने का आश्वासन मिला परंतु बिजली नहीं आई। मजबूरन 10 बजे लड़कों को बड़ा जेनरेटर किराए पर लाकर जागरण करवाया। महिलाएं मुश्किल से धो पा रही हैं कपड़े

महिलाओं ने बताया कि पिछले सात दिनों में बड़ी मुश्किल से दो दिन ही वह सही तरीके से कपड़े धो पाई हैं। स्थिती जहां तक हो गई है कि बर्तनों को भरकर वह जमा कर रही हैं ताकि खाना बनाने में दिक्कत न आए। उन्होंने कहा कि समस्या को लेकर पिछले एक सप्ताह से वह अधिकारियों व कर्मचारियों से जब इस मसले पर बात करते हैं तो कहीं से भी कोई तसल्लीबख्श जवाब नहीं मिलता। वार्ड 45 के लोगों ने हाईवे जाम करने की दी चेतावनी

विनोद धूमल, कर्म चंद, पूर्व मेंबर पंचायत रूप लाल, नानक चंद, काला राम, अशोक कुमार व किशनों देवी आदि ने कहा कि सप्ताह में एक-दो बार तो रात को बिजली बंद हो ही जाती है। गर्मी में बिना बिजली के रात निकालना मुश्किल हो जाती है। गांववासियों ने कहा कि कुछेक लोगों के घरों में इनवर्टर हैं लेकिन, बिजली की कटौती इतनी होती है कि इनवर्टर भी रात को जवाब दे जाते हैं। गांववासियों ने पावरकाम को चेताते हुए कहा कि समस्या का शीघ्र समाधान करें। अगर हल न किया तो वह हाईवे जाम करने के लिए मजबूर हो जाएंगे जिसकी सारी जिम्मेवारी पावरकाम की होगी।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept