कर्ज माफी व प्लाट की मांग को लेकर मजदूरों का प्रदर्शन

ग्रामीण मजदूर संघ ने बुधवार को गांव कुलार में पंजाब सरकार के खिलाफ धरना दिया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। तहसील अध्यक्ष अशोक कुलार ने मजदूरों के हक की बात करते हुए कहा कि पंजाब सरकार ने भूमिहीन लोगों से किए गए वादों को हमेशा नजर अंदाज किया है।

JagranPublish: Wed, 08 Dec 2021 03:59 PM (IST)Updated: Wed, 08 Dec 2021 03:59 PM (IST)
कर्ज माफी व प्लाट की मांग को लेकर मजदूरों का प्रदर्शन

संवाद सहयोगी, काठगढ़ : ग्रामीण मजदूर संघ ने बुधवार को गांव कुलार में पंजाब सरकार के खिलाफ धरना दिया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। तहसील अध्यक्ष अशोक कुलार ने मजदूरों के हक की बात करते हुए कहा कि पंजाब सरकार ने भूमिहीन लोगों से किए गए वादों को हमेशा नजर अंदाज किया है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने मजदूरों का कर्ज माफ करने, पीने के पानी के नलों का बकाया माफ करने और भूमिहीनों को 5 मरले के आवासीय प्लाट दीवाली से पहले देने का वादा किया था, लेकिन अभी तक किसी को प्लाट नहीं मिला है।

उन्होंने कहा कि सड़कों पर जगह-जगह बैनर पोस्टर लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 8 नवंबर को ट्रेड यूनियनों द्वारा चंडीगढ़ सत्र को भी बंद कर दिया गया था, जिसके बाद सरकार ने एक बैठक बुलाई और श्रमिकों की लंबित मांगों को उनके चुनावी वादों के अनुसार हल करने का वादा किया, लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकला है। रूरल वर्कर्स यूनियन पंजाब द्वारा पूरे पंजाब में सरकार की अर्थी फंकी जा रही है। इसके तहत बुधवार को कुलार गांव में सरकार की अर्थी फूंकी गई। उन्होंने कहा कि 12 दिसंबर को पूरा पंजाब जाम रहेगा। मजदूरों की मांग का समाधान होने तक संघर्ष तेज किया जाएगा। इस अवसर पर चमन लाल, अशोक कुमार जनगल, राज कुमार, गगनदीप जनगल, हरीश जनगल, करनाल सिंह, नसीब चंद, बलबीर कौर, जसवीर कौर, कश्मीर कौर, कमलेश कौर, ऊषा रानी, निक्की, जसवीर कौर और कुलार निवासी अन्य उपस्थित थे।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम