नवांशहर में स्वीप गतिविधियों के तहत जागरूकता कार्यक्रम करवाया

जिला चुनाव अफसर कम डिप्टी कमिश्नर विशेष सारंगल के दिशा-निर्देशों के अनुसार मतदाता रजिस्ट्रेशन अफसर 047 -नवांशहर बलजिदर सिंह ढिल्लों के नेतृत्व में जिले में करवाई जा रही स्वीप गतिविधियों के तहत मंगलवार को सिविल सर्जन दफ्तर में एक जागरूकता प्रोग्राम करवाया गया।

JagranPublish: Tue, 11 Jan 2022 10:01 PM (IST)Updated: Tue, 11 Jan 2022 10:01 PM (IST)
नवांशहर में स्वीप गतिविधियों के तहत जागरूकता कार्यक्रम करवाया

जागरण संवाददाता, नवांशहर : जिला चुनाव अफसर कम डिप्टी कमिश्नर विशेष सारंगल के दिशा-निर्देशों के अनुसार मतदाता रजिस्ट्रेशन अफसर 047 -नवांशहर बलजिदर सिंह ढिल्लों के नेतृत्व में जिले में करवाई जा रही स्वीप गतिविधियों के तहत मंगलवार को सिविल सर्जन दफ्तर में एक जागरूकता प्रोग्राम करवाया गया। इस मौके पर स्वीप नोडल अफसर सुरजीत सिंह मझूर और जिला समूह शिक्षा और सूचना अफसर जगत राम ने ईवीएम मशीन पर भरोसा, वीवीपैट और वोट पहनने की महत्ता के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने ईवीएम मशीन में वीवी पैट वोट डाल कर भी दिखाई। वोट की प्रतिशत जितनी अधिक होगी, उतने ही अच्छे अक्स वाला उम्मीदवार चुना जा सकता है। इस मौके सिविल सर्जन डा. दविदर ढांडा ने अपने विचार पेश करते हुए कहा कि लोकतंत्र में वोट का विशेष महत्व होता है और हमारी एक-एक वोट बेहद कीमती है। लोकतंत्र की मजबूती के लिए हमें बगैर किसी लालच या डर-भय से अपने मतदान का सही उपयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि जाति, धर्म और पार्टी से ऊपर उठ कर वोट का प्रयोग किया जाए तो यह देश और प्रदेशों के लिए बहुत बढि़या है।

डा. ढांडा ने कहा कि हमें अपने देश की प्रजातांत्रिक परंपराओं को बनाए रखना चाहिए और स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान की गरिमा को बरकरार रखते हुए निडर होकर धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा या अन्य किसी लालच के प्रभाव से बिना मतदान में अपने वोट के हक का प्रयोग करनी चाहिए। उन्होंने जागरूकता प्रोग्राम में मौजूद सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को हर लोकतांत्रिक अमले में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने शराब, नशे या किसी अन्य लालच में वोट डालने के साथ पूरे लोकतांत्रिक तंत्र को होने वाले नुक्सान के बारे में जागरूक किया।

इस मौके पर सहायक सिविल सर्जन डा. जसदेव सिंह, डिप्टी मेडिकल कमिश्नर डा. हरप्रीत सिंह, सीनियर मेडिकल अफसर डा. हरबंस सिंह, पीए अजय कुमार, डिप्टी समूह शिक्षा और सूचना अफसर तरसेम लाल, ब्लाक एक्स्टेंशन एजुकेटर विकास विर्दी, हेल्थ इंस्पेक्टर राजीव कुमार, सुलिदर कुमार सहित सेहत विभाग के कई अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept