गुरप्रीत कौर गागोवाल ने अनाज मंडियों का किया दौरा

गुरप्रीत कौर गागोवाल कांग्रेसी नेता द्वारा भीखी के पास के गांव की अनाज मंडियों का दौरा किया।

JagranPublish: Sun, 07 Nov 2021 02:29 AM (IST)Updated: Sun, 07 Nov 2021 02:29 AM (IST)
गुरप्रीत कौर गागोवाल ने अनाज मंडियों का किया दौरा

संसू,भीखी: गुरप्रीत कौर गागोवाल कांग्रेसी नेता द्वारा भीखी के पास के गांव की अनाज मंडियों का दौरा कर किसानों और आढ़तियों को आ रही मुश्किलें सुनीं और मंडियों में किए गए प्रबंधों का जायजा भी लिया गया।

गुरप्रीत गागोवाल द्वारा गांव मत्ती,अलीशेर कलां, अनूपगढ़, अतला खुर्द, मोजों आदि गांव की मंडियों का दौरा कर वहां पर मौजूद किसानों और आढ़तियों से विचार चर्चा कर उन्हें मंडियों में आ रही मुश्किलों सुनी गई। गागोवाल द्वारा जल्द ही आ रही मुश्किल हल करवाने का आश्वासन भी दिलाया गया। इस मौके पर गुरप्रीत कौर गागोवाल ने कहा कि पंजाब की चन्नी सरकार द्वारा किसानों को कोई भी मुश्किल नहीं आने दी जाएगी। मंडियों में उनकी फसल का एक-एक दाना की खरीद की जाएगी। उनके साथ हलका मानसा से कांग्रेसी वर्कर उपस्थित थे। हरसिमरत कौर बादल ने किया नरुआणा मंडी का दौरा पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने नरुआणा की अनाज मंडी का दौरा किया। किसानों ने बताया कि उनको मंडी में बैठे हुए दस-दस दिन हो गए हैं और अब तक खरीद शुरू नहीं हो पाई है। इस कारण किसान भारी परेशानी में से गुजर रहे हैं।

किसानों ने सांसद को बताया कि अभी तक फसल को खरीदने वाला कोई अधिकारी नहीं पहुंचा। किसानों ने बाद में सांसद बादल को बादल गांव को जाने वाली सड़क के बारे में बताया कि शिअद सरकार के समय सड़क बहुत अच्छी थी जबकि अब सड़क की हालत बहुत खराब है। इस पर बादल ने कहा कि अगर कोई पंचायत मेंबर बन जाता है तो वह भी अपनी गली को पक्का बना देता है, लेकिन मनप्रीत बादल वित्त मंत्री हैं और वह अपने गांव को जाने वाली सड़क नहीं बना पाए।

हरसिमरत ने कहा कि उन्होंने पहली बार देखा है कि किसानों की फसलों की खरीद नहीं हो रही और किसान सड़कों पर अपनी फसलें लेकर बैठे हुए हैं। उन्होंने बठिडा के डीसी को मौके पर फोन करके अधिकारी भेज कर धान की फसल की बोली लगवाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि किसान दस दिन से मंडियों में अपनी फसल लेकर बैठे हुए हैं, लेकिन कोई अधिकारी फसल खरीदने नहीं पहुंच रहा। कल मुलाजिमों ने दीवाली की छुट्टी होने की बात कही, लेकिन अब दीवाली के अगले दिन भी कोई नहीं पहुंचा। इस पर बठिडा के डीसी ने उनको तुरंत मुलाजिम भेज कर खरीद शुरू कराने के लिए कहा।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept