लुधियाना के विकास पर सुखबीर बोले, हम होते तो तीन साल पहले ही पूरा हो जाता फिरोजपुर एलिवेटेड रोड का प्रोजेक्ट

शिरोमणि अकाली दल के प्रधान एवं पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल ने दावा किया है कि पंजाब में बिजली का संकट कोयले की कमी से नहीं बल्कि सरकार के कमजोर प्रबंधन की वजह से आया। कांग्रेस सरकार ने पिछले पांच साल में कोई थर्मल प्लांट नहीं लगाया जबकि इस दौरान मांग काफी बढ़ गई।

JagranPublish: Sun, 17 Oct 2021 07:22 AM (IST)Updated: Sun, 17 Oct 2021 07:22 AM (IST)
लुधियाना के विकास पर सुखबीर बोले, हम होते तो तीन साल पहले ही पूरा हो जाता फिरोजपुर एलिवेटेड रोड का प्रोजेक्ट

जागरण संवाददाता, लुधियाना : शिरोमणि अकाली दल के प्रधान एवं पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल ने दावा किया है कि पंजाब में बिजली का संकट कोयले की कमी से नहीं, बल्कि सरकार के कमजोर प्रबंधन की वजह से आया। कांग्रेस सरकार ने पिछले पांच साल में कोई थर्मल प्लांट नहीं लगाया, जबकि इस दौरान मांग काफी बढ़ गई। यदि सरकार वक्त पर इंतजाम करती तो आज पंजाबियों को गंभीर पावर संकट से नहीं गुजरना पड़ता। सुखबीर बादल शनिवार को सुबह लुधियाना में राउंड टेबल इंडिया एवं अकाली नेता भूपिदर सिंह भिदा की ओर से आयोजित ब्रेकफास्ट विद सुखबीर कार्यक्रम में पहुंचे थे। इस दौरान उद्यमियों एवं बुद्धिजीवियों ने सुखबीर के साथ सूबे के ज्वलंत मुद्दों पर मंथन किया। इस दौरान लोगों द्वारा उठाए गए मुद्दों पर सुखबीर ने गंभीरता से अपने विजन के बारे में बताया। इस दौरान उन्होंने लुधियाना में कई प्रोजेक्टों की धीमी रफ्तार का भी मुद्दा उठाया। इस अवसर पर वरिष्ठ नेता महेश इंद्र सिंह ग्रेवाल, रंजीत सिंह ढिल्लों, कमल चेटली, हरचरण सिंह गोहलवड़िया के अलावा राउंड टेबल इंडिया के आयूष जैन समेत कई लोग मौजूद रहे।

उद्योगपति सैलेश जैन ने पूछा- सूबे में विकास के लिए मजबूत इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरत है, इसके लिए क्या विजन है?

सुखबीर बादल ने कहा कि सूबे के चौतरफा विकास के लिए विजन, फैसले लेने की क्षमता एवं आइडिया की जरूरत है, जिसमें मौजूद सरकार सक्षम ही नहीं है। पंजाब में बनाए गए थर्मल प्लांट निजी नहीं, बल्कि सरकार के हैं। इनमें निवेश जरूर निजी कंपनियों का भी है। सूबे में बिजली की जरूरतों को पूरा करने के लिए अब पैदावार बढ़ाने की जरूरत है। इसके लिए अकाली दल ने रोड मैप तैयार कर लिया है। सुखबीर ने कहा कि सूबे में विकास शिअद की ही देन है। मोहाली, न्यू चंडीगढ़ का विकास, सड़क इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने में शिअद का ही विजन है। सुखबीर ने कहा कि पंजाब उनका घर है। इसे बेहतरीन बनाना उनकी जिम्मेदारी है। राउंड टेबल इंडिया के आशीष जैन ने पूछा- कोविड काल में अस्पतालों ने मरीजों से काफी पैसे वसूले। ऐसे में सेहत सेवाएं बेहतर कैसे हो सकती हैं?

सुखबीर ने कहा कि कोविड जैसी महामारी की किसी को भी भनक तक नहीं थी। ऐसी महामारी कभी भी आ सकती हैं। ऐसे में सरकारी क्षेत्र में सेहत सेवाओं को मजबूत करने की जरूरत है ताकि आर्थिक तौर पर कमजोर वर्ग के लोगों को सस्ता एवं बेहतर इलाज मिल सके। सेहत सुविधाओं के लिए विशेष रोड मैप बनाने की जरूरत है। गठबंधन सरकार बनने पर इस तरफ विशेष ध्यान दिया जाएगा। लोगों ने पूछा, लुधियाना में चल रहे प्रोजेक्टों के बारे में आपका क्या कहना है?

सुखबीर ने कहा कि लुधियाना में कई प्रोजेक्ट बहुत ही धीमी गति से चल रहे हैं। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि फिरोजपुर रोड-समराला चौक एलिवेटेड रोड का प्रोजेक्ट आज भी लटका हुआ है। अगर हमारी सरकार होती ते यह प्रोजेक्ट तीन साल पहले ही पूरा कर लिया जाता। मौजूदा सरकार का विकास पर फोकस ही नहीं है। उद्योगपतियों के लिए सौर ऊर्जा क्षमता विकसित करने को कहा

सुखबीर ने उन्होंने घोषणा की कि शिअद-बसपा गठबंधन सरकार बनने पर दो साल में ही मुफ्त बिजली सब्सिडी बिल को बेमानी बनाने के लिए सौर ऊर्जा क्षमता बढ़ाई जाएगी। ऐसी नीति तैयार की जाएगी कि औद्योगिक क्षेत्र अपनी सौर उर्जा क्षमता विकसित करेंगे और उसका लाभ लेंगे। सुखबीर बोले कि किसानों को दी जाने वाली मुफ्त बिजली की तुलना में 12 हजार करोड़ रुपये के सालाना सब्सिडी बिल को पूरा करने के लिए सौर उर्जा क्षमता स्थापित करेगी। 25 हजार करोड़ रुपये की लागत से 10 हजार मेगावाट सौर उर्जा आसानी से मिल सकेगी। उद्योगपति अपने सौर संयत्र स्थापित करें। वैकल्पिक रूप से औद्योगिक फोकल प्वाइंट्स भी स्थापित किए जा सकते हैं। महिलाओं व शिक्षा क्षेत्र के लिए भी की घोषणा

उन्होंने यह भी घोषणा की कि महिला उद्यमियों को दस लाख तक का कर्ज उपलब्ध करवाकर उन्हें अपना व्यापार स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एक विशेष नीति बनाई जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने निशुल्क शिक्षा प्रदान करने के लिए स्कूल बनाए थे, जिन्हें कांग्रेस ने बंद करवा दिया। इन्हें दोबारा शुरू करवाया जाएगा। ग्रेवाल बोले, कांग्रेस ने दिया गैगस्टर कल्चर को बढ़ावा

वरिष्ठ नेता महेशइंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा कि कांग्रेस के साढ़े चार के कार्यकाल में जहां शांति और सांप्रदायिक सौहार्द खतरे में पड़ा है, वहीं व्यापार और औद्योगिक हलकों में असुरक्षा की भावना भी बढ़ी है। गैंगस्टर कल्चर को बढ़ावा दिया गया है, जिसके कारण जेल में बैठे कैदियों के इशारों पर जबरन वसूली और हत्याओं को भी अंजाम दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पंजाब को ऐसी सरकार की जरूरत है जो एक्सप्रेसवे और हवाई अड्डों की स्थापना करे और कारोबार को बढ़ावा दे।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept