एक स्टेशन एक उत्पाद याेजना में फिरोजपुर मंडल के 152 रेलवे स्टेशनों का चयन, जानिए क्या मिलेगी सुविधा

वोकल फार लोकल अवधारणा को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रेलवे ‘एक स्टेशन एक उत्पाद’ के तहत प्रयास कर रहा है। इसमें स्थानीय एवं स्वदेशी उत्पादों के लिए बाजार उपलब्ध कराना प्रमुख ताैर पर शामिल किया गया है।

Vipin KumarPublish: Thu, 26 May 2022 11:15 AM (IST)Updated: Thu, 26 May 2022 11:15 AM (IST)
एक स्टेशन एक उत्पाद याेजना में फिरोजपुर मंडल के 152 रेलवे स्टेशनों का चयन, जानिए क्या मिलेगी सुविधा

मुनीश शर्मा, लुधियाना। भारत सरकार के आत्मनिर्भर भारत और वोकल फार लोकल अवधारणा को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रेलवे ‘एक स्टेशन, एक उत्पाद’ के तहत प्रयास कर रहा है। इसमें स्थानीय एवं स्वदेशी उत्पादों के लिए बाजार उपलब्ध कराना, रेल यात्रियों को भारत की समृद्ध विरासत का अनुभव करने तथा इन उत्पादों को खरीदने का अवसर प्रदान करने और समाज के वंचित वर्ग के लिए अतिरिक्त आय के अवसर सृजित करने हेतु पहल कर रहा है।

योजना का उद्देश्य स्थानीय एवं स्वदेशी उत्पादों को बढ़ावा देना तथा स्थानीय बुनकरों, कारीगरों, शिल्पकारों आदि के कौशल विकास के माध्यम से आजीविका कमाने का अवसर प्रदान करना है। फिरोजपुर मंडल के अंतर्गत पंजाब, हिमाचल प्रदेश तथा जम्मू एवं कश्मीर राज्यों के क्षेत्र आते है और ‘एक स्टेशन एक उत्पाद’ के अंतर्गत मंडल के 152 रेलवे स्टेशनों को चयनित किया गया है। इनमें प्रमुख स्टेशन अमृतसर, जम्मूतवी, जालंधर सिटी एवं कैंट, लुधियाना, फिरोजपुर कैंट, मुक्तसर, मोगा, फाजिल्का, फगवाड़ा, वेरका, सुल्तानपुर लोधी, पठानकोट जंक्शन एवं कैंट, श्री माता वैष्णो देवी कतरा, उधमपुर, बडगाम, अवन्तिपुरा, बारामुल्ला, काजीगुंड, ज्वालामुखी रोड, बैजनाथ पपरोला, कांगड़ा मंदिर, जोगिन्द्रनगर, पंचरुखी आदि है। इन स्टेशनों पर वहां की स्थानीय उत्पादों यथा हैंडलूम, लोकल कलाकृति, फुलकारी, खादी उत्पाद, दुग्ध उत्पाद, ऊनी एवं होजरी उत्पाद, खेल-कूद सामग्री एवं परिधान, कश्मीरी मेवा एवं मशाले, लोकल कृषि एवं खाद्य उत्पादन इत्यादि सामग्रियों को प्रदर्शित एवं बिक्री करने हेतु रेलवे द्वारा स्टाल/ कियोस्क उपलब्ध कराया जाएगा।

एक स्टेशन एक उत्पाद से जुड़े कारीगर/ बुनकर जिनके पास विकास आयुक्त हस्तशिल्प, विकास आयुक्त हथकरघा या केंद्र /राज्य सरकार द्वारा जारी पहचानपत्र, भारतीय जनजातीय सहकारी विपणन विकास महासंघ, राष्ट्रीय हथकरघा विकास निगम, खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग में नामांकित कारीगर / बुनकर, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना में पंजीकृत स्वयं सहायता समूह तथा समाज के वंचित वर्ग के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी।

‘एक स्टेशन एक उत्पाद’ योजना के अंतर्गत स्टाल लगाने के लिए इच्छुक संस्था / व्यक्ति अपना आवेदन सम्बंधित स्टेशन अथवा मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय फिरोजपुर में वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक के यहां जमा कर सकते है। आवेदन पत्र के साथ आवश्यक प्रमाण पत्र एवं कांटेक्ट नंबर लिखा होना चाहिए। एक स्टेशन के लिए एक से अधिक आवेदन पत्र प्राप्त होने पर लाटरी के माध्यम से निर्णय लिया जाएगा।

इस संबंध में किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त करने हेतु संबंधित स्टेशन के स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक तथा वाणिज्य निरीक्षक से संपर्क कर सकते है। इस पायलट प्रोजेक्ट के अंतर्गत अमृतसर रेलवे स्टेशन पर 15-15 दिनों की अवधि के लिए 4 बार आवंटन किया जा चुका है जो वर्तमान में चल रहा है।

Edited By Vipin Kumar

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept