Punjab Election 2022: जानिए पंजाब के पूर्व डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा के 'हिंदू विराेधी' बयान पर क्याें मचा है बवाल

Punjab Chunav 2022 पंजाब का मालेरकाेटला जिला एक बार फिर चर्चा में है। मालेरकाेटला काे नया जिला बनाने पर जमकर सियासत हुई थी। अब कांग्रेस पार्टी की मालेरकोटला से उम्मीदवार रजिया सुल्ताना के पति ने हिंदू समुदाय पर विवादास्पद बयान दिया है।

Vipin KumarPublish: Sun, 23 Jan 2022 12:12 PM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 07:42 AM (IST)
Punjab Election 2022: जानिए पंजाब के पूर्व डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा के 'हिंदू विराेधी' बयान पर क्याें मचा है बवाल

आनलाइन डेस्क, संगरूर। मुस्लिम बहल मालेरकाेटला एक बार फिर चर्चा में है। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजाेत सिद्धू (Punjab Congress President Navjot Sidhu) के रणनीतिक सलाहकार मोहम्मद मुस्तफा (Mohammad Mustafa) के एक बयान ने सियासत में गर्माहट ला दी है। मुस्तफा (Mustafa) ने हिंदुओं काे देख लेने की धमकी देकर नए विवाद काे तूल दे दिया है। मोहम्मद मुस्तफा पंजाब के डीजीपी रहे हैं। मोहम्मद मुस्तफा आगामी पंजाब चुनाव (Punjab Chunav) के लिए कांग्रेस पार्टी की मालेरकोटला से उम्मीदवार रजिया सुल्ताना (Razia Sultana) के पति हैं। रजिया राज्य मंत्री और वर्तमान में विधायक हैं। मालेरकाेटला काे नया जिला बनाने पर जमकर विवाद हुआ था। यूपी के मुख्यमंत्री याेगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) ने धर्म के आधार पर जिले के गठन पर एतराज जताते हुए कांग्रेस (Congress) पर निशाना साधा था।

1454 में हुई थी मालेरकोटला की स्थापना

गाैरतलब है कि 14 मई 2021 काे कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ईद के मौके पर मुस्लिम बहुल क्षेत्र मालेरकोटला को जिला बनाने की घोषणा की थी। कैप्टन ने मालेरकोटला में नवाब शेर मोहम्मद खान की याद में 500 करोड़ की लागत से मेडिकल कालेज बनाने, लड़कियों के लिए 12 करोड़ की लागत के साथ कालेज बनाने, महिलाओं के लिए एक अलग से महिला पुलिस स्टेशन खोलने की घोषणा की। इसके अलावा सीएम ने बस स्टैंड के निर्माण के लिए दस करोड़ रुपये देने का भी एलान किया था। मुस्लिम आबादी वाले मालेरकोटला की स्थापना 1454 में हुई थी। मलेरकोटला में अल्पसंख्यक कोटे से बनने वाले मेडिकल कालेज के लिए 500 करोड़ रुपये देने की घोषणा की थी। उन्होंने कालेज के लिए 50 करोड़ रुपये पहली किश्त के रूप में देने का एलान किया था।

यह भी पढ़ें-नवजोत सिद्धू के सलाहकार मुस्तफा के बयान पर भड़के लुधियाना के हिंदू संगठन, गिरफ्तारी की उठाई मांग

मेरी चेतावनी को तोड़ मरोड़ कर पेश किया : मुस्तफा

मोहम्मद मुस्तफा ने कहा कि मैं किसी के घर चाय पीने गया था, विरोधी पार्टी के समर्थकों ने हमला किया। मैंने केवल यही कहा कि दोबारा ऐसी हरकत हुई तो यह ठीक नहीं होगा। प्रशासन को उसकी ड्यूटी याद दिलाई है। मैंने कहीं भी हिंदू शब्द का इस्तेमाल नहीं किया। मैं सभी धर्मों का सम्मान करने वाला हूं, कुछ ताकतें क्षेत्र का माहौल खराब करना चाहती हैं। मेरी चेतावनी को तरोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है।

यह भी पढ़ें-सिद्धू के रणनीतिक सलाहकार मुस्तफा की धमकी, हिंदुओं को जलसे की इजाजत दी तो गंभीर हालात पैदा कर दूंगा

Edited By Vipin Kumar

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept