Punjab Election 2022: कांग्रेस ने कोटकपूरा से अजयपाल को उतारा मैदान में, नवजोत सिद्दू दिखा सकते हैं बागी तेवर

Punjab Vidhan Sabha Election 2022 कांग्रेस ने कोटकपूरा और जैतो आरक्षित सीट के लिए मंगलवार देर रात्रि अपने प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी कर दी। कोटकपूरा से अजयपाल सिंह संधू और भाई राहुल सिंह सिद्दू टिकट के लिए प्रबल दावेदार थे दोनों के मध्य व्याप्त घोर गुटबंदी जगजाहिर है।

Vinay KumarPublish: Wed, 26 Jan 2022 09:34 AM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 09:34 AM (IST)
Punjab Election 2022: कांग्रेस ने कोटकपूरा से अजयपाल को उतारा मैदान में, नवजोत सिद्दू दिखा सकते हैं बागी तेवर

फरीदकोट [प्रदीप कुमार सिंह]। भारी जद्दोजहद के बाद कांग्रेस पार्टी ने कोटकपूरा और जैतो आरक्षित सीट के लिए मंगलवार देर रात्रि अपने प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी कर दी। पार्टी ने कोटकपूरा विधानसभा सीट से पूर्व जिला प्रधान अजयपाल सिंह संधू तो जैतो सीटी से जिला परिषद सदस्य दर्शन सिंह ढिल्लवां को चुनाव मैदान में उतरा है। कोटकपूरा से अजयपाल सिंह संधू और भाई राहुल सिंह सिद्दू टिकट के लिए प्रबल दावेदार थे, दोनों के मध्य व्याप्त घोर गुटबंदी जगजाहिर है। प्रदेश में जब तक कैप्टन मुख्यमंत्री रहे, तब तक भाई राहुल सिंह सिद्दू की ही कोटकपूरा में चलती रही, परंतु उनके मुख्यमंत्री पद से जाने के बाद चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद अजयपाल सिंह संधू कोटकपूरा में हावी हो गए।

संधू ने सिद्दू द्वारा कोटकपूरा नगर कौंसिल में बनाए उपाध्यक्ष को बदल दिया, इससे दोनों के मध्य और कटुता बढ़ गई। हालांकि मूल रूप से मुक्तसरसाहिब निवासी सिद्दू के पिता भाई कुक्कु 2017 का विधानसभा चुनाव कोटकपूरा से लड़ चुके है और वह आप प्रत्याशी से दस हजार मतों से हार गए थे। ऐसे में सिद्दू द्वारा चुनाव लड़ने की घोषणा अपने समर्थकों से की गई थी, और अब जब उनकी टिकट कट गई है तो इसकी ज्यादा संभावना है कि वह कैप्टन की पार्टी से कोटकपूरा से प्रत्याशी हो सकते हैं। कैप्टन को भी इसी बात का इंतजार था, कि कांग्रेस संधू व सिद्दू में से जिस किसी एक को टिकट देगी, दूसरे को वह अपने पार्टी का प्रत्याशी घोषित कर देंगे, दोपहर तक सिद्दू अपने समर्थकों के साथ बैठक उपरांत इसकी घोषणा कर सकते है।

इसी तरह से जैतो में भी कांग्रेस गुटबंदी से जूझ रही थी, जिसे देख पार्टी ने जिला परिषद सदस्य दर्शन सिंह ढिल्लवां को जैतो सुरक्षित सीट से प्रत्याशी घोषित किया है। जैतो में किसी गुटबंदी से दूर रहने का फायदा दर्शन को मिला है। हालांकि अब यहां यह देखने वाली बात होगी कि सांसद मोहम्मद सदीक का क्या रुख होता है, जो कि अपनी बेटी जाबेद अख्तर के लिए पार्टी से टिकट मांग रहे थे, और पिछले पांच सालों से सांसद जैतो में ही पूरी तरह से सक्रिय रहे और हर छोटे-बड़े काम को करवाते हुए दिखाई दिए। पार्टी के कार्यकारी जिला प्रधान अमित जैन जुगनू ने बताया कि दर्शन सिंह ढिल्लवां पार्टी के वफादार सिपाही है और बेहद ही साधारण परिवार से ताल्लुक रखते है। उन्होंने कहा कि जैतो में पार्टी को दर्शन को प्रत्याशी बनाए जाने से बल मिलेगा।

जैतो में सभी प्रमुख पार्टियों के प्रत्याशी चुनाव मैदान में

-कांग्रेस-दर्शन सिंह ढिल्लवां

-शिअद-बसपा गठबंधन-सूबा सिंह बादल

-भाजपा-शिअद संयुक्त गठबंधन-बीबी परमजीत कौर गुलशन

-आप-अमोलक सिंह

-संयुक्त समाजमोर्चा-डा. रमनदीप सिंह

कोटकपूरा में भाजपा गठबंधन को छोड़ सभी प्रमुख पार्टियों के प्रत्याशी चुनाव मैदान में

-कांग्रेस-अजयपाल सिंह संधू

-शिअद-बसपा गठबंधन-मनतार सिंह बराड़

-भाजपा-शिअद संयुक्त गठबंधन

-आप-कुलतार सिंह संधवा

-संयुक्त समाजमोर्चा-कुलबीर सिंह मत्ता

Edited By Vinay Kumar

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept