This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Doctors Strike In Ludhiana: डाक्टरों की हड़ताल से दिनभर भटकते रहे मरीज, ओपीडी सेवा रही ठप

Doctors Strike In Ludhiana छठे वेतन आयोग की सिफारिशों का विरोध कर रहे सरकारी डाक्टरों ने शनिवार भी हड़ताल जारी रखी। इसके चलते सिविल अस्पताल की ओपीडी और मदर एंड चाइल्ड अस्पताल में लगातार आने वाले मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Vipin KumarSat, 24 Jul 2021 04:33 PM (IST)
Doctors Strike In Ludhiana: डाक्टरों की हड़ताल से दिनभर भटकते रहे मरीज, ओपीडी सेवा रही ठप

जागरण संवाददाता, लुधियाना। Doctors Strike In Ludhiana: छठे वेतन आयोग की सिफारिशों का विरोध कर रहे सरकारी डाक्टरों ने शनिवार भी हड़ताल जारी रखी। इसके चलते सिविल अस्पताल की ओपीडी और मदर एंड चाइल्ड अस्पताल में लगातार आने वाले मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ओपीडी के अलावा वीडियो कांफ्रेंसिंग, यूडीआइडी सेवाओं, सरबत बीमा योजना, इलेक्टिव सर्जरी, वीआइपी ड्यूटी का भी बायकाट किया गया।

यह भी पढ़ें-बेअदबी व विवादित पोस्टर मामले में डेरा सच्चा सौदा सिरसा के तीन सदस्यों के गिरफ्तारी वारंट

डाक्टर्स मे पैरलल ओपीडी भी चलाई

बता दें कि छठे वेतन आयाेग की सिफारिशों का विरोध कर रहे सरकारी डाक्टरों की ओर से पिछले काफी दिनों से ओपीडी का बायकाट किया जा रहा है। इस बीच डाक्टर्स मे पैरलल ओपीडी भी चलाई पर अभी भी अस्पताल में कई ऐसे मरीज पहुंच रहे हैं, जिन्हें हड़ताल का पता नहीं है और परेशान हो बिना इलाज के उन्हें वापस लौटना पड़ रहा है। मरीजों ने यह भी कहा कि अस्पताल में उन्हें गाइड करने वाला भी कोई नहीं है।

 यह भी पढ़ें-Punjab Congress Politics: नवजाेत सिद्धू की कार में कैबिनेट मंत्री आशु, लुधियाना में बदलने लगे सियासी समीकरण

मरीजाें काे हाेना पड़ा परेशान

टिब्बा रोड शक्ति नगर के गुलबहार सिंह ने कहा कि उसके लीवर में समस्या है। इलाज कराने के लिए वह शनिवार सिविल की ओपीडी पहुंचे। हड़ताल का उन्हें पता नहीं था और बिना इलाज के पैसे ही बैरंग लौटना पड़ा है। शिमलापुरी की कुलदीप कौर अपने पति पवन के साथ इलाज के लिए अस्पताल की ओपीडी पहुंची। पथरी के दर्द की शिकायत के बाद भी उन्हें किसी तरह का इलाज नहीं मिला। कुलदीप ने यह भी कहा कि वह अस्पताल की एमरजेंसी में भी गए लेकिन उन्हें यह वापस भेज दिया गया कि ओपीडी में ही चेक कराएं।

यह भी पढ़ें-लुधियाना के MLA बैंस की मुश्किलें बढ़ीं, High Court में केस रद करने की याचिका खारिज; गिरफ्तारी की लटकी तलवार

 

Edited By: Vipin Kumar

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

लुधियाना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner