ईडी के छापों से चर्चा में आया खन्ना की नकली शराब फैक्ट्री का मामला

पंजाब में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा खनन मामले में करीब एक दर्जन स्थानों पर छापामारी के दौरान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भानजे समेत कई कांग्रेस नेता घेरे में हैं। ईडी की कांग्रेस नेताओं के नजदीकियों पर की गई इस बड़ी कार्रवाई के बाद दो साल पहले खन्ना के गांव बाहोमाजरा में पकड़ी गई नकली शराब की फैक्ट्री का मामला भी चर्चा में आ गया है।

JagranPublish: Tue, 18 Jan 2022 07:21 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 07:21 PM (IST)
ईडी के छापों से चर्चा में आया खन्ना की नकली शराब फैक्ट्री का मामला

सचिन आनंद, खन्ना : पंजाब में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा खनन मामले में करीब एक दर्जन स्थानों पर छापामारी के दौरान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भानजे समेत कई कांग्रेस नेता घेरे में हैं। ईडी की कांग्रेस नेताओं के नजदीकियों पर की गई इस बड़ी कार्रवाई के बाद दो साल पहले खन्ना के गांव बाहोमाजरा में पकड़ी गई नकली शराब की फैक्ट्री का मामला भी चर्चा में आ गया है। उस समय कांग्रेस नेता कुलविदर सिंह काला कद्दों को पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार किया था और कांग्रेस नेताओं के नजदीकी शक के दायरे में थे।

गौरतलब है कि अप्रैल 2020 में खन्ना पुलिस ने लाकडाउन के दौरान पंजाब भर में नकली शराब बनाकर सप्लाई करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर खन्ना के बाहोमाजरा से उनकी एक फैक्ट्री पकड़ी थी। यहां शराब बनाने का सामान भारी मात्रा में बरामद किया था। मामले में करीब आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसके करीब एक माह बाद पुलिस ने पायल के गांव कद्दों के कांग्रेस नेता काला कद्दों को भी काबू किया था। उसके बाद से ही मामले के तार कांग्रेसी गलियारों से जुड़ने लगे थे। बड़े कांग्रेसी चेहरों के साथ काला कद्दों की तस्वीरें भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुई थी, हालांकि उस पार्टी ने इसे सिरे से नकार दिया था।

ईडी के अधिकारी ले गए थे फाइलें

उस समय पंजाब में शराब की चार फैक्ट्रियां पकड़ी गई थी। इनमें से तीन पटियाला और एक खन्ना की थी। मामले से पर्दा हटने के कुछ समय बाद ईडी ने चारों मामलों की फाइलें अपने कब्जे में ले ली थी। इसके बाद से ईडी इसकी जांच में जुट गई थी। अब पंजाब में ईडी की नई दबिश से शराब फैक्ट्रियों के मामले में कार्रवाई के संकेत भी मिलने लगे हैं। अगर ऐसा होता है तो खन्ना की सियासत में बड़ी हलचल हो सकती है।

विपक्ष और सत्ता पक्ष उठाता रहा है बड़ी कार्रवाई की मांग

मामले में विपक्षी दल और सत्तधारी दल के नेता बड़ी कार्रवाई की मांग उठाते रहे हैं। भाजपा नेता अनुज छाहड़िया, शिअद नेता यादविदर सिंह यादू इस मामले में काफी मुखर रहे। कांग्रेस के सांसद शमशेर सिंह दूलो ने तो सीबीआइ जांच की मांग कर दी थी। इसके अलावा हाल ही में कांग्रेस के किसान नेता और नवजोत सिंह सिद्धू के नजदीकी अमरिदर सिंह ढींडसा मिदी ने भी शराब फैक्ट्री के मामले को लेकर कांग्रेस को ही घेरा था।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept