This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Punjab Monsoon Updates: पंजाब में लाेगाें काे गर्मी से मिली राहत, पठानकाेट सहित कई जिलों में बारिश से माैसम सुहावना

Punjab Monsoon Updates पंजाब में भीषण गर्मी से लोगाें काे रहात मिल गई है। कई जिलाें में रविवार सुबह से ही बारिश हाे रही है। मौसम विशेषज्ञों व आंकड़ों की बात करें तो पिछले तीन वर्षों में जून व जुलाई माह में इस बार सबसे कम बारिश हुई।

Kamlesh BhattSun, 11 Jul 2021 12:46 PM (IST)
Punjab Monsoon Updates: पंजाब में लाेगाें काे गर्मी से मिली राहत, पठानकाेट सहित कई जिलों में बारिश से माैसम सुहावना

जागरण संवाददाता, लुधियाना/अमृतसर/पठानकाेट। Punjab Monsoon Updates: मानसून शनिवार को आखिरकार दोबारा सक्रिय हो गया। तेज हवा के बीच रविवार काे राज्य के अमृतसर, पठानकाेट सहित कई जिलों में हल्की बारिश हुई। हालांकि बारिश के चलते पठानकाेट के कई बाजारों में पानी भी भर गया परंतु लोगों ने छुट्टी वाले दिन घरों में ही रहकर बारिश का लुत्फ उठाया। बारिश देख किसानों के चेहरे खिल उठे। इसके अलावा लुधियाना में सुबह से ही बादल छाए हुए हैं। मौसम विशेषज्ञों व आंकड़ों की बात करें तो पिछले तीन वर्षों में जून व जुलाई माह में इस बार सबसे कम बारिश हुई।

मौसम विशेषज्ञों ने पहले कहा था कि मानसून समय से पूर्व आ गया है, लेकिन फिर वह डायवर्ट हो गया। जून के पहले सप्ताह को छोड़ दें तो उसके बाद किसी भी सप्ताह बारिश सामान्य तक नहीं पहुंच पाई। जुलाई के पहले सप्ताह में सामान्य तौर पर 49 एमएम तक बारिश होती है, लेकिन इस बार सिर्फ 27.4 एमएम बारिश हुई है। हालांकि, 2020 में भी जून माह में बारिश नहीं के बराबर हुई थी, लेकिन जुलाई के आरंभ से ही झमाझम बारिश हुई थी।

पीएयू के मौसम विशेषज्ञ डा. केके गिल के अनुसार रविवार व सोमवार को मानसून तेजी से सक्रिय होगा और पूरे पंजाब को कवर कर लेगा। इससे तेज हवाओं के बीच पठानकोट, होशियारपुर, गुरदासपुर, रोपड़, एसबीएस नगर में भारी बारिश हो सकती है, जबकि बाकी जिलों में हल्की बारिश होगी। मानसून की रफ्तार 13 जुलाई से धीमी पड़ जाएगी।

किसान पंपों के सहारे भूजल खेतों में डाल रहे

उधर, कृषि विशेषज्ञों का मानना है कि जुलाई के बाकी समय में बारिश होनी अति आवश्यक है। वर्तमान में बारिश कम होने से किसान पंपों के सहारे भूजल खेतों में डाल रहे हैं। इतना ही नहीं, बारिश सामान्य होने के कारण बिजली उत्पादन पर भी इसका असर पड़ा है। किसानों को न तो पर्याप्त बिजली मिल रही है और खेतों में पंपों पर ज्यादा डीजल खर्च करना पड़ रहा है।

पिछले तीन साल की बारिश के आंकड़े

समय                  सामान्य              2019              2020          2021

4-10 जून            12.4                  00                  04             13.0

11-17 जून            20.2                 9.5                 4.4           14.0

18-24 जून           16.4                 19.0                1.0            9.4

25जून-1 जुलाई     39.7                 00                   3.6            22.0

2-8 जुलाई             49.1                14.4                116.4         27.4

 

Edited By: Kamlesh Bhatt

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

लुधियाना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner