जीएचजी इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ फॉर वूमेन सिधवां खुर्द ने राष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन

जीएचजी इंस्टीट्यूट आफ लॉ फार वूमेन सिधवां खुर्द की आइक्यूएसी एवं राष्ट्रीय सेवा योजना यूनिट एनएसएस द्वारा राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में एक दिवसीय वेबिनार का आयोजन किया गया।

JagranPublish: Mon, 24 Jan 2022 08:52 PM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 08:52 PM (IST)
जीएचजी इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ फॉर वूमेन सिधवां खुर्द ने राष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन

जागरण संवाददाता, जगराओं : जीएचजी इंस्टीट्यूट आफ लॉ फार वूमेन सिधवां खुर्द की आइक्यूएसी एवं राष्ट्रीय सेवा योजना यूनिट एनएसएस द्वारा राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में एक दिवसीय वेबिनार का आयोजन किया गया। इस आयोजन में डा. संगीता टाक असिस्टेंट प्रोफेसर, राजीव गांधी नेशनल यूनिवर्सिटी आफ लॉ ने मुख्य वक्ता के रूप में शिरकत की। कालेज के प्रिंसिपल डा. एसके नायक ने मुख्य वक्ता डा. संगीता का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि बालिकाओं को सक्षम बनने के लिए खुद पर विश्वास करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने अधिकारों के बारे में जागरूक कर कानूनी सेवाओं और नीतियों के माध्यम से एक अनुकूल वातावरण बनाने के लिए प्रोत्साहित करते हुए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान पर भी प्रकाश डाला। डा. संगीता ने हर क्षेत्र में लड़कियों को समान अवसर तथा अधिकार देने की बात भी कही। उन्होंने महिलाओं के सामाजिक स्तर को ऊंचा उठाने के लिए भेदभाव व बाल विवाह इत्यादि को रोकने पर भी अपने विचार प्रकट किए। ऐसे आयोजनों में विधि छात्राओं की सक्रिय भागीदारी की सराहना की। वेबिनार के अंत में सहायक प्रो. जसपाल कौर ने मुख्य वक्ता और सभी प्रतिभागियों का आभार व्यक्त किया। वेबिनार में कालेज के प्रिंसिपल डा. एसके नायक, डा. श्वेता ढंड, मिस जसपाल कौर के मार्गदर्शन में लगभग एक सौ प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। डा. एसके नायक ने वेबिनार प्रभारियों के इस प्रयास के लिए सराहना करते हुए बधाई दी और आशा व्यक्त की कि वे भविष्य में भी इस तरह के आयोजन करते रहेंगे।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम