This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

लुधियाना में कोरोना के नए स्ट्रेन की एंट्री, GADVASU के स्टूडेंट समेत 7 मरीजों में मिला यूके वेरिएंट; कोई विदेश नहीं गया

लुधियाना में वेटरनरी यूनिवर्सिटी गडवासू के स्टूडेंट समेत जिले के सात लोगों में यूके स्ट्रेन (कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन) की पुष्टि हुई है। चिंता की बात यह है कि जिन सात लोगों में यूके स्ट्रेन पाया गया है उनके विदेश जाने की कोई हिस्ट्री नहीं है।

Vikas KumarWed, 24 Mar 2021 07:14 AM (IST)
लुधियाना में कोरोना के नए स्ट्रेन की एंट्री, GADVASU के स्टूडेंट समेत 7 मरीजों में मिला यूके वेरिएंट; कोई विदेश नहीं गया

लुधियाना, जेएनएन। जिले में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की एंट्री हो गई है। जीनोम सीक्वेंसिंग में वेटरनरी यूनिवर्सिटी गडवासू के स्टूडेंट समेत जिले के सात लोगों में यूके स्ट्रेन (कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन) की पुष्टि हुई है। चिंता की बात यह है कि जिन सात लोगों में यूके स्ट्रेन पाया गया है, उनके विदेश जाने की कोई हिस्ट्री नहीं है और न ही वे किसी विदेश से लौटे व्यक्ति के संपर्क में आए हैं। ऐसे में सेहत विभाग के अधिकारी भी सकते में हैं कि इनमें यूके वेरिएंट स्ट्रेन कहां से आ गया।

जानकारी के मुताबिक, गुरु अंगद देव वेटरनरी एंड एनिमल साइंसेस यूनिवर्सिटी (गडवासू) में सेकेंड इयर के 21 वर्षीय स्टूडेंट में नया स्ट्रेन मिला है। वह स्टूडेंट गुरदासपुर का रहने वाला है। आठ मार्च को युवक के सैंपल लिए गए थे और नौ मार्च को उसकी रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इसके बाद वह अपने घर चला गया था। उसका कहना है कि वह न तो कभी विदेश गया और ही वहां से लौटे किसी व्यक्ति के संपर्क में आया है।

इसके अलावा जीएसएस मंगली ऊंची के तीन लोगों में यूके स्ट्रेन मिला है। इनमें एक महिला व दो पुरुष हैं। खन्ना के अमलोह रोड निवासी बुजुर्ग में भी नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई। वह छह मार्च को पाजिटिव आए थे और आठ मार्च को उनका सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था। खास बात है कि वे एक माह से खन्ना से बाहर तक नहीं गए। हालांकि उनका बेटा कनाडा में है, लेकिन उससे मुलाकात नहीं हुई। इसके साथ ही नंगल कलां और खन्ना की बाजीगर बस्ती में रहने वाले एक-एक युवक में कोरोना के नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। कोरोना का यूके स्ट्रेन मिलने से जिले के सेहत विभाग में हड़कंप मच गया है, ये वायरस बहुत तेजी से फैलता है।

जनवरी में आई थी जीनोम सीक्वेंसिंग की हिदायतें

राज्य के सेहत विभाग की ओर से जनवरी में कोरोना सैंपलों की जीनोम सीक्वेंङ्क्षसग को लेकर गाइडलाइन जारी की गई थी। इसमें डीसी व सिविल सर्जन को निर्देश दिए गए थे कि पिछले साल सितंबर से लेकर दिसंबर के बीच लैब में कोरोना पाजिटिव पाए गए कुल सैंपलों में पांच फीसद सैंपलों की जीनोम सीक्वेंसिंग करवाई गई। इसके साथ ही  रूटीन में जिन लोगों के सैंपल पाजिटिव आ रहे हैं, उनमें से भी रैंडम ड्रा के आधार पर पांच फीसद सैंपलों को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जाए। ऐसे में जिन सात लोगों में नया स्ट्रेन मिला है, उनके सैंपल भी रैंडम बेस्ड पर भेजे गए थे।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

लुधियाना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!