चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन मामले में पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ केस दर्ज

चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन मामले में पंजाब के पूर्व मंत्री व वरिष्ठ अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ केस दर्ज कर दिया गया है। मजीठिया पर आरोप है कि उन्होंने कोविड प्रोटोकाल का उल्लंघन किया है।

Kamlesh BhattPublish: Sun, 16 Jan 2022 01:29 PM (IST)Updated: Sun, 16 Jan 2022 05:33 PM (IST)
चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन मामले में पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ केस दर्ज

जागरण संवाददाता, अमृतसर। ड्रग मामले में जमानत मिलने के बाद वरिष्ठ अकाली नेता व पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया श्री हरिमंदिर साहिब में माथा टेकने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान दौरान किए रोड शो के मामले में चुनाव आयोग ने उन पर कार्रवाई की है। इस दौरान धारा 144 और कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई गई, जिसके बाद उनके खिलाफ थाना सुल्तानविंड में मामला दर्ज किया गया है। इसके अलावा आयोग ने अकाली दल और मजीठिया को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है।

बता दें, शहर में धारा 144 लगाई गई है और जिले में बढ़ रहे कोरोना के केसों के चलते रैली आदि पर पाबंदी लगाई गई है, लेकिन शनिवार को पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया के स्वागत के लिए अकाली वर्करों ने जहां कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई, वहीं धारा 144 का भी जमकर उल्लंघन किया गया। रैली के दौरान चुनाव आयोग की टीमें इस पर नजर रखे हुई थी, जिसके बाद इसकी सारी रिपोर्ट जिला चुनाव अधिकारी कम डिप्टी कमिश्नर गुरप्रीत सिंह खैहरा को दी गई। उनके निर्देशों के बाद थाना सुल्तानविंड की पुलिस ने 188 एपिडेमिक एक्ट और धारा 144 के तहत बिक्रम सिंह मजीठिया पर मामला दर्ज कर लिया गया।

इससे पूर्व ड्रग मामले में मामला दर्ज होने के बाद पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया गायब थे। उन्हें हाल ही में जमानत मिली है और जमानत मिलने के बाद शनिवार को वह दरबार साहिब में माथा टेकने के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान उनके स्वागत में अकाली वर्करों का हुजूम उमड़ गया।

चुनाव आचार संहिता लागू होने के उपरांत 40.31 करोड़ की वस्तुएं जब्त 

पंजाब में विधानसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद राज्य में लागू हुई चुनाव आचार संहिता के दौरान 14 जनवरी 2022 तक कुल 40.31 करोड़ की वस्तुएं और नकदी जब्त की गई है। मुख्य चुनाव अधिकारी पंजाब डा. एस करुणा राजू ने बताया कि राज्य में विभिन्न सर्विलांस टीमों द्वारा 2.72 लाख लीटर शराब पकड़ी गई है जिसकी कीमत 81 लाख रुपये बनती है।

उन्होंने बताया कि इसी तरह राज्य में नशीले पदार्थ भी पकडे गए हैं, जिनकी कीमत 38.93 करोड़ बनती है। इसके अलावा राज्य में 14 लाख रुपये की नकद राशि भी जब्त की गई है। डा. राजू ने बताया कि आदर्श चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर राज्य में 1064 संवेदनशील स्थानों की पहचान की गई है। इसके अलावा राज्य में 2222 ऐसे लोगों की पहचान की गई है जो कि सुरक्षा में रुकावट पैदा कर सकते हैं। इनमें से 894 के खिलाफ कार्रवाई कर दी गई है और बाकी रहते व्यक्तियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी। 

Edited By Kamlesh Bhatt

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept