जीएनडीयू ने परीक्षा पैट्रन में किया बदलाव, इस बार नहीं मिलेगी ओपन च्वाइस

गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी ने आनलाइन ली जाने वाली परीक्षाओं को लेकर डेटशीट जारी करनी शुरू कर दी है।

JagranPublish: Thu, 20 Jan 2022 06:58 PM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 06:58 PM (IST)
जीएनडीयू ने परीक्षा पैट्रन में किया बदलाव, इस बार नहीं मिलेगी ओपन च्वाइस

अंकित शर्मा, जालंधर : गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी ने आनलाइन ली जाने वाली परीक्षाओं को लेकर डेटशीट जारी करनी शुरू कर दी है। इसबार विद्यार्थियों को यह ध्यान में रखना होगा कि पिछले साल के मुकाबले परीक्षा पैट्रन में बदलाव किया गया है। बीते वर्ष हुई आनलाइन परीक्षा में विद्यार्थियों को प्रश्नों के प्रत्येक भाग में ओपन च्वाइस दी गई थी। इसके तहत आठ प्रश्नों में से किन्हीं चार प्रश्नों को हल करना अनिवार्य किया गया था। इससे विद्यार्थियों को चुनिदा प्रश्न करने की छूट मिल जाने से राहत मिली थी। इस बार यह राहत नहीं मिलेगी। विद्यार्थियों को परीक्षा पत्र में चार भाग दिए जाएंगे और उन्हें चारों भागों से एक-एक प्रश्न करना अनिवार्य होगा। अगर साफ शब्दों में कहें कि किसी एक भाग से दो प्रश्नों को हल कर लिया गया तो उसके अंक नहीं मिलेगा। इसलिए विद्यार्थियों की परीक्षा के मद्देनजर बदले गए नियमों का ध्यान अवश्य रखना होगा।

दिव्यांगों को पेपर देने के लिए मिलेगा एक घंटे का अतिरिक्त समय

जीएनडीयू की तरफ से परीक्षाओं संबंधी विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए एसओपी जारी कर दी गई है। इसे फॉलो करना सभी के लिए अनिवार्य होगा। इसके तहत विद्यार्थियों को परीक्षा देने से लेकर उत्तर पुस्तिका की पीडीएफ फाइल बनाकर भेजने के लिए कुल 3 घंटे 45 मिनट का समय दिया गया है। यही नहीं दिव्यांगों के लिए परीक्षा के तीन घंटों के अतिरिक्त 60 मिनट दिए गए हैं। यानी कि उन्हें चार घंटे में परीक्षा करनी होगी। यही नहीं अगर दिव्यांगों को राइटर की जरूरत है तो उसके लिए भी नियमों का ध्यान रखना अनिवार्य होगा। परीक्षा समय बीत जाने के बाद किसी की भी उत्तर पुस्तिका को स्वीकार नहीं किया जाएगा। अगर इनविजिलेटर को लगता है कि उत्तर पुस्तिका क्लियर नहीं है तो विद्यार्थी से दोबारा भी मंगवाई जा सकती है। एलकेसी के प्रिसिपल डा. गुरपिदर सिंह समरा ने विद्यार्थियों से अपील की है कि वे परीक्षा के समय में यूनिवर्सिटी की तरफ से जारी की गई हिदायतों का ध्यान अवश्य रखें, ताकि उन्हें किसी प्रकार की समस्या न आए।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept