This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Punjab Monsoon Alert: हिमाचल में बादल फटने व आपदाओं के बाद पंजाब के पर्यटक दहशत में, बदला पहाड़ों पर घूमने का प्लान

हिमाचल प्रदेश में बादल फटने और बाढ़ आने सहित कुदरती आपदाओं से घबराए पर्यटक अब हरिद्वार देहरादून और वृंदावन सहित स्टेशनों की तरफ कूच कर रहे हैं। 3 अगस्त तक बारिश के पूर्वानुमान ने वहां जाने के इच्छुक लोगों को प्लान बदलने को विवश कर दिया है।

Pankaj DwivediThu, 29 Jul 2021 03:27 PM (IST)
Punjab Monsoon Alert: हिमाचल में बादल फटने व आपदाओं के बाद पंजाब के पर्यटक दहशत में, बदला पहाड़ों पर घूमने का प्लान

जागरण संवाददाता, जालंधर। Punjab Monsoon Alert हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही मूसलधार बारिश और कुदरती आपदाओं के बाद मची तबाही के बीच हिमाचल सरकार ने रेड अलर्ट जारी किया है। इसका असर वहां जाने वाले पर्यटकों पर भी पड़ा है। लोग अब हिमाचल प्रदेश के बजाय अन्य स्टेशनों पर जाने को तरजीह देने लगे हैं। हिमाचल प्रदेश में 3 अगस्त तक बारिश के पूर्वानुमान ने वहां जाने के इच्छुक लोगों को प्लान बदलने को विवश कर दिया है। 

हरिद्वार, देहरादून व वृंदावन की तरफ बड़ा रुझान

हिमाचल प्रदेश में बादल फटने और बाढ़ आने सहित कुदरती आपदाओं से घबराए पर्यटक अब हरिद्वार, देहरादून और वृंदावन सहित स्टेशनों की तरफ कूच कर रहे हैं। इस बारे में हिमाचल का प्रोग्राम बनाने के बाद रद करने वाले डॉ. मनीष मेहता ने बताया कि परिवार के साथ अब हिमाचल घूमने जाना सुरक्षित नहीं लग रहा। ऐसे में वृंदावन बेहतर विकल्प है। इसी तरह हर वर्ष हिमाचल घूमने के लिए जाने वाले उद्योगपति राजीव जैन बताते हैं कि हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही घटनाओं से दहशत बढ़ गई है। इस बार हरिद्वार, देहरादून तथा मंसूरी को बेहतर विकल्प माना गया है। परिवार सहित अब हिमाचल की बजाय इन स्टेशनों पर जाने का प्लान किया जा रहा है।

शिमला के चिड़गांव में बहा पुल, बंद करनी पड़ी लेन

हिमाचल के शिमला में घूमने के शौकीन लोगों के लिए हाल ही में आई तबाही ने दहशत पैदा कर दी है। शिमला जिले के चिड़गांव के गुमा खड्ड में पानी के तेज बहाव में वहां का पुल बह गया था। जिसमें कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त भी हुई। स्थानीय सरकार द्वारा इस लेन को मजबूरन बंद करना पड़ा। जिसके चलते वहां पर जाने वाले लोग अब प्रोग्राम स्थगित कर रहे हैं। इसी तरह तेंजिंग नाले में बादल फटने के बाद आई बाढ़ ने कहर मचा दिया था। जिसके परिणाम स्वरूप मनाली लेह मार्ग पर आवाजाही बंद कर दी गई। इसके बाद से केवल पंजाब की नहीं बल्कि ने राज्यों से आने वाले पर्यटकों ने भी यहां जाना सुरक्षित नहीं समझा।

यह भी पढ़ें - Navjot Sidhu का फिर कैप्टन पर हमला, बोले- हाईकमान का 18 सूत्रीय फार्मूला हर हाल में कराएंगे लागू, रोड़ा बनने वाला बर्दाश्त नहीं

यह भी पढ़ें - पेट्रोल में निकला पानी! जालंधर में वाहन खराब होने पर चालकों का हंगामा; कंपनी ने बंद करवाया पंप

Edited By: Pankaj Dwivedi

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

जालंधर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner