This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

उलझा अपहरण का मैसेज भेजने वाली लड़की का मामला, तरनतारन में मिली मोबाइल की लोकेशन Jalandhar News

लड़की के नंबर से एक अन्य नंबर पर लगातार बातें हुई हैं। पुलिस को शक है कि लड़की के कथित अपरहण के पीछे कोई और कहानी हो सकती है।

Sun, 15 Sep 2019 03:04 PM (IST)
उलझा अपहरण का मैसेज भेजने वाली लड़की का मामला, तरनतारन में मिली मोबाइल की लोकेशन Jalandhar News

जालंधर, जेएनएन। खुद के अपहरण का मैसेज करने वाली बैंक एन्कलेव की नौवीं कक्षा की छात्रा के मोबाइल की टावर लोकेशन तरनतारन में मिली है। जांच में सामने आया कि लड़की के मोबाइल से एक नंबर पर लगातार बातें हो रही थीं। वो नंबर किसी लड़के का है। शुक्रवार दोपहर 12.30 बजे जब लड़की ने अपने पिता को मैसेज किया तो भी उक्त लड़के का नंबर साथ ही चल रहा था। उसके बाद लड़की का मोबाइल तो स्विच ऑफ हो गया लेकिन दूसरा नंबर लगातार चल रहा था। उसकी आखिरी लोकेशन तरनतारन की आई लेकिन उसके बाद मोबाइल फिर से बंद हो गया। थाना डिवीजन नंबर सात के प्रभारी नवीन पाल ने बताया कि पुलिस उनके काफी करीब पहुंच गई है। लड़की का अपहरण हुआ, वो अपने आप गई, मैसेज क्यों भेजा, इसका पता तो लड़की के मिलने पर चल पाएगा।

शुक्रवार को लड़की ने वाट्सएप से अपने पिता को मैसेज भेजा था कि उसको कुछ शराबी लड़कों ने उसे उठाकर कार की डिग्गी में डाल दिया है। उसे नहीं पता कि वो कहां है? पापा मुझे बचा लो। निजी फैक्ट्री में काम करने वाले राम सहाए ने बताया था कि उसकी बेटी मिट्ठापुर में सरकारी स्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ती है। उसने बताया कि कुछ दिन पहले उसकी बेटी ने शिकायत की थी कि स्कूल में नहीं पढ़ना, वहां पर कुछ लड़के उसे तंग करते हैं। उसकी बात सुन पर वह मिट्ठापुर में उन लड़कों से बात करने गए तो पता चला कि वहां के एक सरपंच के रिश्तेदार हैं। वह सरपंच के पास गए तो सरपंच ने आश्वासन दिया था कि वे लड़कों को समझाएंगे और वो कभी भी लड़की को तंग नहीं करेंगे।

उसने बताया कि इसके बाद भी लड़की शिकायत करती थी कि लड़के तंग करते हैं और अब तो उसे धमकियां भी दे रहे हैं। इसके बाद उन्होंने लड़की का स्कूल में जाना बंद करवा दिया। उनकी बेटी कभी-कभी अपनी दादी को मिलने के लिए वुडन एवेन्यू, केपी स्टेडियम के पास जाती थी। शुक्रवार को वह सुबह अपने काम पर गए और शाम को वापिस आए। काम के दौरान वह अपना मोबाइल बंद रखते हैं। शाम को मोबाइल ऑन किया तो देखा कि उनकी बेटी का मैसेज आया हुआ है। उन्होंने अपनी छोटी बेटी को मैसेज पढ़ने के लिए कहा तो पता चला कि उसका अपहरण हो गया है।

लड़के ने कहा, वह दिल्ली में है लेकिन लोकेशन तरनतारन की

लड़की के मोबाइल से जिस नंबर पर सबसे ज्यादा कॉलिंग हुई थी, उस नंबर पर पुलिस ने फोन किया तो पता फोन उठाने वाले ने कहा कि वो दिल्ली में रहता है। पुलिस ने जब जांच की तो उसके मोबाइल की टॉवर लोकेशन तरनतारन की निकल रही थी। ऐसे में पुलिस को शक है कि शायद इसके पीछे कोई और भी कहानी हो सकती है।

वाट्सएप पर होती थीं कई-कई घंटे बातें

पुलिस ने जब लड़की के मोबाइल की डिटेल निकलवाई तो पता चला कि लड़की वाट्सएप पर भी घंटों उस नंबर पर बातें कर रही थी जिसको पुलिस ने ट्रेस किया है। दिन भर मैसेज और कॉल होती थी और कई कई घंटे लगातार होती थी।

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

जालंधर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!