पंजाब में नेताओं का चुनावी फैशन, नवजोत सिद्धू को पठानी सूट तो चन्नी को भा रहे स्पोर्ट्स बूट

नवजोत सिंह सिद्धू का पहनावा सबसे जुदा है। वर्ष 2004 में ओरेंज प्रिंट शर्ट और पैंट उनको पसंद थे। वर्ष 2007 के उपचुनाव और 2009 के लोकसभा चुनाव में भी पैंट-शर्ट ही पहनते रहे। अब लंबे समय से वह पठानी कुर्ता-पजामे में नजर आ रहे हैं।

Pankaj DwivediPublish: Tue, 18 Jan 2022 11:01 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 11:04 AM (IST)
पंजाब में नेताओं का चुनावी फैशन, नवजोत सिद्धू को पठानी सूट तो चन्नी को भा रहे स्पोर्ट्स बूट

विपिन कुमार राणा, अमृतसर। राज्य में विधानसभा चुनाव को लेकर चाहे सियासी पारा चढ़ा हुआ है, लेकिन कड़ाके की ठंड ने नेताओं की परेशानी बढ़ा दी है। ऐसे में चुनावी रण में उतरने को तैयार नेताओं ने ऐसे परिधान धारण कर लिए हैं, जो गर्मी तो दूर करे ही। साथ ही, मतदाताओं को भी लुभाए। देसी अंदाज में दिखने के लिए वे परंपरागत लोई ओढ़कर लोगों के बीच में जा रहे हैं तो सुविधा की दृष्टि से स्पोर्ट्स शूज भी पहन रहे हैं। राजनीतिक बयानों के अलावा नेताओं के परिधानोंकी भी लोग चर्चा कर रहे हैं।

नवजोत सिंह सिद्धू का पहनावा सबसे जुदा

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू का पहनावा सबसे जुदा है। वर्ष 2004 में ओरेंज प्रिंट शर्ट और पैंट उनको पसंद थे। वर्ष 2007 के उपचुनाव और 2009 के लोकसभा चुनाव में भी पैंट-शर्ट ही पहनते रहे। अब लंबे समय से वह पठानी कुर्ता-पजामे में नजर आ रहे हैं। स्कार्फ भी पगड़ी के साथ मैंचिंग होता है।

बहुरंगी लोई ओढ़े नजर आ रहे राजा वड़िंग

वहीं, परिवहन मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग के पहनावे का अंदाज भी कुछ जुदा है। अक्सर वेस्ट कोट या फिर हाफ जैकेट में रहने वाले वडिं़ग स्वेटर व लोई में नजर आ रहे हैं। खास बात यह है कि उन्हें बहुरंगी लोई ज्यादा पसंद है। पिछले दिनों मुख्यमंत्री के साथ हेलीकाप्टर में भी वह बहुरंगी लोई में ही नजर आए थे।

आम पंजाबी दिखने को चन्नी ओढ़ रहे लोई

वहीं, चरणजीत सिंह चन्नी भी मुख्यमंत्री के बाद बाद से ही खुद को सादा सिंपल व सरल दिखाने की कवायद में हैं। सर्दी में उन्होंने देहाती क्षेत्रों में रुटीन में ओढ़ी जाने वाली लोई को धारण कर लिया है। चन्नी जबसे मुख्यमंत्री बने हैं, तब यह वह खुद को आम पंजाबी के रूप में दिखाना चाहते हैं। बूट भी स्पोर्ट्स के पहन रहे हैं।

यह भी पढ़ें - पंजाब में बिजली फाल्ट पल में होगी दूर, अब शिकायत केंद्रों के मोबाइल नंबर पर भी करें काल, देखें सूची

Edited By Pankaj Dwivedi

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept