चुनाव प्रचार सामग्री पर अपना नाम व पता प्रकाशित करना अनिवार्य

जिला प्रशासन की ओर से चुनाव आयोग की हिदायतों को लेकर प्रिटिग प्रेस संचालकों से अवगत करवाया।

JagranPublish: Sat, 22 Jan 2022 01:51 AM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 01:51 AM (IST)
चुनाव प्रचार सामग्री पर अपना नाम व पता प्रकाशित करना अनिवार्य

जागरण संवाददाता, जालंधर : जिला प्रशासन की ओर से चुनाव आयोग की हिदायतों को लेकर प्रिटिग प्रेस संचालकों से अवगत करवाया। प्रशासन की टीम ने शहरी इलाकों के अलावा फिल्लौर, शाहकोट, नकोदर, आदमपुर, कैंट तथा करतारपुर में प्रिटर व प्रकाशकों को इन नियमों से अवगत करवाया। इस मौके पर एडीसी जसप्रीत सिंह ने कहा कि पोस्टर व होर्डिंग्स की छपाई के दौरान पंफ्लेट, हैंडबिल, पोस्टर सहित चुनाव प्रचार सामग्री पर अपना नाम व पता प्रकाशित करना अनिवार्य है। जिला चुनाव अधिकारी कम डीसी घनश्याम थोरी ने कहा कि इस संबंध में सभी प्रिटरों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

-------------

चुनावी ड्यूटी करने वालों को नहीं लगी बूस्टर डोज

केंद्र सरकार की ओर से जारी हिदायतों के बाद चुनावी ड्यूटी वाले कर्मचारियों को वैक्सीन लगवाने के लिए भटकना पड़ रहा है। शुक्रवार कुछ समय के लिए अपडेट हुआ सिस्टम चला और उसके बाद बंद रहा। इसकी वजह से चुनावी ड्यूटी वाले कर्मचारियों को निराश लौटना पड़ा। शुक्रवार को जिले में 214 सेंटरों में 18,528 लोगों को वैक्सीन की डोज लगी। इनमें 15-18 साल तक के 1080 तथा बूस्टर डोज वाले 1090 लोग शामिल है।

केंद्र सरकार की ओर से चार दिन पहले चुनावी ड्यूटी वाले कर्मचारियों को बूस्टर डोज लगाने की हिदायतें जारी की थी परंतु सिस्टम अपडेट नही होने से परेशानियों का दौर शुक्रवार को भी जारी रहा। शुक्रवार को करीब एक घंटे के लिए सिस्टम चला और उसके बाद बंद हो गया। इस दौरान चंद लोगों को ही वैक्सीन लगी। हालांकि अन्य लोगों को नीतियों के अनुसार वैक्सीन लगती रही। जबकि चुनावी ड्यूटी वाले कर्मचारियों की स्टाफ के साथ गहमा गहमी हुई और उन्हें बैरंग लौटना पड़ा।

जिला टीकाकरण अधिकारी डा. राकेश चोपड़ा का कहना है कि जिले में चुनावी ड्यूटी वाले कर्मचारियों को बूस्टर डोज लगाने के लिए सिस्टम अपडेट हो गया है और इसके ट्रायल भी किए गए है। इसे जल्द ही चलाया जाएगा। इसके अलावा अन्य लोगों को वैक्सीन की डोज लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि चुनावी ड्यूटी पर जाने वाले कर्मचारियों को बूस्टर डोज लगवाने के लिए सेंटर में पहचान पत्र दिखाना होगा। जिले में कुल 27,58,222 डोज लग चुकी है। इनमें 15,85,664 पहली, 11,63,144 दूसरी तथा 9,414 बूस्टर डोज वाले शामिल है।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept