विश्वानाथ बंटी न्यायीक हिरासत में

सीआईए इंचार्ज होशियारपुर की तरफ से संयुक्त रूप से काबू किए विश्वानाथ बंटी को मंगलवार को सीजीएम पुष्पा रानी की अदालत में पेश किया।

JagranPublish: Tue, 18 Jan 2022 10:15 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 10:15 PM (IST)
विश्वानाथ बंटी न्यायीक हिरासत में

संवाद सहयोगी, होशियारपुर

लड़ाई झगड़े के मामले में पुलिस थाना माडल टाऊन प्रभारी एसआइ देसराज और सीआईए इंचार्ज होशियारपुर की तरफ से संयुक्त रूप से काबू किए विश्वानाथ बंटी को मंगलवार को सीजीएम पुष्पा रानी की अदालत में पेश किया। जिस पर अदालत ने विश्वानाथ बंटी को 14 दिन के लिए न्यायीक हिरासत में जेल भेज दिया है।

क्या है मामला

27 जुलाई 2021को पुलिस थाना माडल टाऊन के एएसआई राम सिंह को दिए बयान में कमल भार्गव निवासी एसएएस नगर होशियारपुर ने बताया कि वह अपने दोस्त विवेक कौशल निवासी नई आबादी होशियारपुर जिसका कृष्णा कार बाजार हीरा कालोनी में स्थित है वहां पर बैठा था कि अचानक ही विश्वानाथ बंटी के साथ दो अन्य व्यक्ति नवाब हुसैन और अजय राणा उर्फ गांधी जिनके हाथों में हथियार पकड़े थे और उनके साथ मनु पहलवान, लक्की भट्टी, रिशु आदिया, शुभम, सन्नी हरियाना, सादिक, शामा, साजन, मनी, नवदीप सिंह धामी, शहजादा हाथों में हथियार लिए कार बाजार के अंदर प्रवेश करके कार बाजार के अंदर खड़ी गाड़ियों की तोड़फोड़ करने लगे उक्त हमलावरों को जैसे ही ऐसा करने से रोकने के लिए बाहर निकले तो सभी हमलावरों ने मारने की नीयत से उन पर हमला कर दिया। वह जान बचाकर आफिस के अंदर गए तो सभी हमलावर आफिर के अंदर आ गए। विवेक कौशल अपनी जान बचाने के लिए बाथरुम में छुप गया जिसके चलते सभी हमलावरों ने उस पर हमला कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने सवारी का प्रबंध करके उसे इलाज के लिए सरकारी अस्पताल होशियारपुर भेज दिया यहां पर डाक्टरों ने उसकी हालत को देखते हुए प्राईवेट अस्पताल रेफर कर दिया। एएसआइ राम सिंह ने कमल भार्गव के बयान पर मामला दर्ज कर लिया था।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept