जूतों में छिपा जेल में बंद पति को नशा दे गई महिला

सेंट्रल जेल फिरोजपुर में बंद पति को कपड़े व जूते देने के लिए आई महिला कपड़ों में छिपाकर नशा भी दे गई।

JagranPublish: Sat, 27 Nov 2021 09:49 PM (IST)Updated: Sat, 27 Nov 2021 09:49 PM (IST)
जूतों में छिपा जेल में बंद पति को नशा दे गई महिला

संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : सेंट्रल जेल फिरोजपुर में बंद पति को कपड़े व जूते देने के लिए आई महिला कपड़ों में छिपाकर नशा भी दे गई। कोविड-19 के कारण सामान की 24 घंटे बाद तलाशी ली गई तो 51 नशीली गोलियां और जर्दा मिला। थाना सिटी में आरोपित महिला और विचाराधीन कैदी पर पर्चा दर्ज किया।

सब इंस्पेक्टर अमनदीप कौर ने बताया कि सहायक सुपरिटेंडेंट सुखजिदर सिंह ने बताया कि शुक्रवार को विचाराधीन कैदी बलकार सिंह निवासी मोहर सिंह वाला जलालाबाद के लिए छोड़े गए सामान की तलाशी ली तो जूतों में लिफाफे से 51 नशीली गोलियां, 13.58 ग्राम खुला तंबाकू बरामद हुआ, उक्त सामान बलकार की पत्नी गुरमीत कौर देकर गई थी। पुलिस ने आरोपित बलकार सिंह और उसकी पत्नी गुरमीत कौर के खिलाफ मामला दर्ज करके अगली कार्रवाई शुरु की है। कैदी से मिला मोबाइल फोन

वहीं जेल अधिकारियों व कर्मचारियों ने बैरक की तलाशी के दौरान कैदी से एक मोबाइल फोन और सिम कार्ड बरामद किया है। थाना सिटी फिरोजपुर के हवलदार गुरविदर सिंह ने बताया कि सहायक सुपरिटेंडेंट गुरबचन सिंह बताया कि शुक्रवार को जब उन्होंने साथी कर्मचारियों के साथ नई बैरक नंबर तीन की अचानक तलाशी ली तो बैरक में मौजूद कैदी महिदर सिंह निवासी घनौरी कलां थाना शेरपुर जिला संगरूर हाल केंद्रीय जेल फिरोजपुर से एक मोबाइल फोन, बैटरी व सीम कार्ड बरामद हुआ। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

दुकानदार से मारपीट कर लूटे 21 हजार संस, अबोहर : खुइयां सरवर में कपड़े का कार्य करने वाले एक दुकानदार से शुक्रवार रात बाइक सवार दो युवक मारपीट करते हुए हजारों रुपये की नकदी छीनकर फरार हो गए। व्यापारी के हाथ व मुंह पर चोटें लगी हैं। उसका इलाज निजी अस्पताल से करवाया गया है। मामले की सूचना खुइयां सरवर पुलिस को दे दी गई है।

खुइयां सरवर निवासी अविनाश पुत्र हंसराज ने बताया कि उसकी खुइयां सरवर में गारमेंट की दुकान है। शुक्रवार रात को वह दुकान से घर की तरफ जा रहा था कि पीछे से बाइक सवार दो युवक आए, जिनके हाथ में तेजधार हथियार थे, जिन्होंने अचानक उस पर हमला बोल दिया। अविनाश ने बताया कि उसके हाथ में 22 हजार रुपये की नकदी थी। हमले के समय उसे सुध नहीं रही और वह बेहोश होकर नीचे गिर गया। उक्त दोनों युवक उसे घायल कर नकदी लेकर वहां से फरार हो गए। उसे जब होश आया तो वह सड़क किनारे पड़ा था। सारी घटना की जानकारी उसने अपने भाई को दी, जिसने उसका निजी अस्पताल में प्राथमिक इलाज कराया और इसकी सूचना खुइयां सरवर पुलिस को दी। घटना को लेकर खुइयां सरवर के दुकानदारों में रोष पाया जा रहा है।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept