लगातार 4 दिन हुई बारिश से गेहूं, सरसों और आलू की फसल खराब, डेराबस्सी पहुंची कृषि विभाग की टीम

कृषि विभाग के अधिकारी डॉ नवदीप सिंह और डॉ मंजीत सिंह की टीम ने डेराबस्सी ब्लॉक के विभिन्न गांवों का दौरा किया। उन्होंने बताया कि लगातार हुई बारिश से किसानों की सरसों की फसल को काफी नुकसान हुआ है।

Ankesh ThakurPublish: Tue, 11 Jan 2022 03:07 PM (IST)Updated: Tue, 11 Jan 2022 03:07 PM (IST)
लगातार 4 दिन हुई बारिश से गेहूं, सरसों और आलू की फसल खराब, डेराबस्सी पहुंची कृषि विभाग की टीम

जागरण संवाददाता, मोहाली। पंजाब, हरियाणा समेत कई राज्यों में पिछले 4 से 5 दिन जमकर बारिश हुई है। हालांकि अब मौसम साफ बना हुआ है, लेकिन मौसम विभाग ने अगले सप्ताह से एक बार फिर बारिश के आसार जताए हैं। लगातार हुई बारिश के मोहाली के डेराबस्सी के किसानों की फसल पर इसका बहुत बुरा असर पड़ा है। वैसे तो दिसंबर और जनवरी में होने वाली बरसात से गेहूं की फसल को फायदा होता है, लेकिन इस बार बारिश कुछ ज्यादा ही हो गई है, जिससे फसलों को नुकसान हुआ है और किसान चिंतित हैं।

कृषि विभाग के अधिकारी डॉ नवदीप सिंह और डॉ मंजीत सिंह की टीम ने डेराबस्सी ब्लॉक के विभिन्न गांवों का दौरा किया। उन्होंने बताया कि लगातार हुई बारिश से किसानों की सरसों की फसल को काफी नुकसान हुआ है। पिछले वर्ष मंडी में सरसों के एमएसपी से कहीं ज्यादा दाम होने की वजह से क्षेत्र में इस बार किसानों ने पहले से कहीं अधिक सरसों की बुआई की थी। बारिश से आलू की फसल को भी नुकसान पहुंचा है। आलू की फसल बिल्कुल तैयार थी और उसमें पानी भर गया है। बारिश ने पशुओं के चारे की फसल पर भी बुरा प्रभाव डाला है।

इसके अलावा सब्जियों की फसल तो बिल्कुल खराब हो चुकी है। कई जगह तो गेहूं की फसल के ऊपर तक पानी भर गया है। यदि खेतों से इस पानी की निकासी न हुई तो गेहूं की फसल भी खराब हो सकती है। गांव परागपुर के किसान मित्रपाल सिंह, बलजीत सिंह, सरजा सिंह और अवतार सिंह ने बताया कि उन्होंने इस बार ज्यादा आलू की बुवाई की है। इस बरसात ने तो उनकी सारी मेहनत पर पानी फेर दिया है। बरसात का पानी आलू की फसल के बीच में से होकर जा रहा है। कई जगह तो पानी से खेत भरे हुए हैं। हमने सोचा नहीं था, कि इतना नुकसान होगी। सरकार को इस और देखना चाहिए। सब्जियों और आलू की फसल खराब होने से इसका सीधा प्रभाव आम लोगों पर पड़ेगा। लोगों को अपनी जेब और ढीली करनी पड़ेगी क्योंकि बाजार में सब्जियों के दाम बढ़ जाएंगे।

Edited By Ankesh Thakur

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम