This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

मेयर मैडम के डायमंड और डिजायनर मास्क चर्चा में, अधिकारियों की पत्नियां भी कर रही डिमांड

डॉक्टर साहब कहते हैं कि सितंबर के बाद कुछ ग्रहों की स्थिति में बड़ा बदलाव आ रहा है। कोरोना के मामले एकदम से कम हो जाएंगे।

Vikas_KumarTue, 28 Jul 2020 11:07 AM (IST)
मेयर मैडम के डायमंड और डिजायनर मास्क चर्चा में, अधिकारियों की पत्नियां भी कर रही डिमांड

चंडीगढ़, [राजेश ढल्ल]। मेयर राजबाला मलिक के डायमंड और उनके मास्क खूब चर्चा में है। हर दिन बदल-बदलकर डिजायनर मास्क पहनती हैं। यह भी चर्चा है कि वह किसी विशेष डिजायनर से मास्क तैयार करवाती हैं। अब तो चंद अधिकारी भी उन्हें कहने लगे हैं कि उनकी पत्नियां भी मेयर द्वारा पहने गए डायमंड के आभूषण की चर्चा करती हैं और खरीदने की मांग करने लग जाती हैं।

एक अधिकारी ने हाल ही में गपशप करते हुए मेयर को कहा कि जब आपकी तस्वीर अखबार में छपती है तो वह अखबार मोड़कर कर रख देते हैं ताकि उनकी पत्नी की नजर मेयर पर न पड़ जाए और फिर डायमंड की चर्चा शुरू हो जाए। सांसद खेर भी मेयर के डायमंड के आभूषण की तारीफ कर चुकी हैं। ऐसे में कोई उनके डायमंड और मास्क की तारीफ करता है तो वह हंसकर कह देती हैं कि इन चीजों में क्या रखा है।

डॉक्टर साहब ज्योतिष भी हैं

सेक्टर-28 डिस्पेंसरी के सीनियर आयुर्वेदिक डॉ. राजीव कपिला को ज्योतिष विद्या का भी ज्ञान है। यह बात कई मरीज भी जानते हैं। ऐसे में कोरोनाकाल में भी वह प्रतिदिन रूटीन में अपनी डिस्पेंसरी में बैठते हैं। एहतियात के तौर पर वह अपने कमरे में नहीं बल्कि प्रवेश द्वार के बरामदे में कुर्सी लगाकर बैठ रहे हैं। ऐसे में उनके पास इलाज करवाने आने वाले मरीज उनसे ज्योतिष विद्या के अनुसार पूछने लग जाते हैं कि डॉक्टर साहब कोरोना कब जाएगा। इस पर डॉक्टर साहब कहते हैं कि सितंबर के बाद कुछ गृहों की दशा में बड़ा बदलाव आ रहा है। अभी जो कोरोना की संख्या जो तेजी से बढ़ रही है वह एकदम से कम हो जाएगी। यह सुनते ही उनके मरीज अपने आप को सितंबर तक बचाव करने की बात करते हैं। यह डॉक्टर का स्वभाव ही है कि उनसे इलाज करवाने के लिए मरीज पंचकूला और मोहाली से भी आते हैं।

शुक्र है अध्यक्ष को नहीं हुआ कोरोना

भाजपा अध्यक्ष अरुण सूद 14 दिन के लिए होम क्वारंटाइन हैं, क्योंकि उनकी पत्नी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। बावजूद इसके अध्यक्ष सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं। वह पार्टी की की गतिविधियों का फेसबुक पर खूब प्रचार व प्रसार कर रहे हैं। वेबिनार कार्यक्रम के अलावा कार्यकर्ताओं से ऑनलाइन और मोबाइल से भी संपर्क बनाए हुए हैं। जबकि कई कार्यकर्ता भाजपा अध्यक्ष अरुण सूद को आराम करने की भी सलाह दे रहे हैं। पत्नी के पॉजिटिव आने और खुद की रिपोर्ट नेगेटिव आने की भी जानकारी सूद ने खुद ही लोगों को फेसबुक पर दी। पत्नी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद चंद नेता यह भी गपशप कर रहे हैं कि शुक्र है कि अध्यक्ष सूद की रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई, क्योंकि अगर उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आती तो कार्यकर्ताओं की चेन काफी लंबी हो जाती। कार्यकर्ता और कई सीनियर नेता पिछले सप्ताह तक हर दिन अध्यक्ष सूद को पार्टी कार्यालय में मिलते थे।

50 हजार के जुर्माने के डरे रेजिडेंट्स

सेक्टर-45ए में श्री ज्वाला माता मंदिर के पास कई वर्षो से कचरे का ढेर लगता था, वहां पर कई बार सख्ती करने के बावजूद भी लोगों ने कचरा फेंकना बंद नहीं किया। ऐसे में यहां कचरा फेंकने वालों में चालान का डर पैदा करने के लिए यहां की एसोसिएशन ने बैनर बनवाए। इस बैनर को सोशल मीडिया पर ही वायरल किया गया, जिसमें कहा गया कि 27 जुलाई के बाद यहां कचरा फेंकने वालों का 50 हजार रुपये का चालान कटेगा। जबकि 50 हजार रुपये का चालान कटने का कोई नियम ही नगर निगम ने नहीं बनाया है। अधिकतर 5500 रुपये तक का चालान हो सकता है। लेकिन 50 हजार रुपये का जुर्माने की खबर सुनकर लोग डर गए और एसोसिएशन को 80 फीसद की कामयाबी मिल गई है। इस बैनर में एसोसिएशन के अध्यक्ष के अलावा वार्ड पार्षद कंवरजीत राणा की भी तस्वीर लगाई गई है।

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

चंडीगढ़ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!