गाड़ी में खुद को गोली मारने के मामले में दंपती के खिलाफ केस दर्ज, गिरफ्तार

शुक्रवार सुबह फेज-5 में खरड़ निवासी 33 वर्षीय हरप्रीत सिंह ने आई-10 गाड़ी में खुद को गोली मार ली थी। फेज-1 थाना पुलिस ने इस मामले में घायल हरप्रीत के पिता हरजीत सिंह के बयान पर सरबजीत कौर व उसके पति हरजोत सिंह के खिलाफ आइपीसी की धारा 306 व 511 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

JagranPublish: Sat, 22 Jan 2022 08:39 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 08:39 PM (IST)
गाड़ी में खुद को गोली मारने के मामले में दंपती के खिलाफ केस दर्ज, गिरफ्तार

जासं, मोहाली : शुक्रवार सुबह फेज-5 में खरड़ निवासी 33 वर्षीय हरप्रीत सिंह ने आई-10 गाड़ी में खुद को गोली मार ली थी। फेज-1 थाना पुलिस ने इस मामले में घायल हरप्रीत के पिता हरजीत सिंह के बयान पर सरबजीत कौर व उसके पति हरजोत सिंह के खिलाफ आइपीसी की धारा 306 व 511 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

हरप्रीत सिंह ने जिस वक्त आत्महत्या की कोशिश की उस दौरान कार में उसकी महिला मित्र सरबजीत कौर भी मौजूद थी। एसएचओ शिवदीप बराड़ ने बताया कि मामले के आरोपित दंपती को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों को शनिवार को जिला अदालत में पेश किया गया, जहां से अदालत ने दोनों को दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। एसएचओ शिवदीप बराड़ ने बताया कि हरजीत की हालत काफी नाजुक है, जो अस्पताल में जिदगी व मौत से जूझ रहा है। सरबजीत के कहने पर खरड़ से मिलने आया था हरप्रीत

पुलिस को दिए बयान में घायल हरप्रीत सिंह के पिता हरजीत सिंह ने बताया कि सरबजीत कौर व हरप्रीत की इंस्टाग्राम पर दोस्ती हुई थी। इससे पहले भी दोनों परिवारों में इस बात को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसमें सरबजीत कौर व उसके पति रवजोत ने उनके बेटे हरप्रीत को धमकी देकर अपने फेज- 4 स्थित कोठी नंबर- 149 में बुलाया था, जहां वह भी अपने बेटे के साथ गए थे। उक्त परिवार ने उनके बेटे व उसके साथ मारपीट की थी और उसका मोबाइल तक तोड़ दिया था। मामला थाने पहुंचने पर दोनों परिवारों में यह समझौता हुआ था कि लड़का और लड़की आपस में नहीं मिलेंगे और न ही कभी फोन पर बात करेंगे। लेकिन जब जांच हुई तो उनके बेटे हरप्रीत के साथ काम करने वाले जसविदर सिंह ने उन्हें बताया कि हरप्रीत सिंह यह कहकर काम से निकला था कि उसे सर्व (सरबजीत कौर) का फोन आया है और उसने उसे किसी जरूरी बात करने के लिए फेज- 5 बुलाया है। हरजीत सिंह ने आरोप लगाया कि उनके बेटे को उक्त महिला सरबजीत कौर व उसके पति ने खुदकुशी करने के लिए मजबूर किया था। यह है मामला

शुक्रवार सुबह फेज-5 में अमृत कंफैक्शनरी की बैक साइड में खड़ी आइ-10 कार में 33 वर्षीय हरप्रीत ने अपनी महिला मित्र सरबजीत कौर के सामने .32 बोर की लाइसेंसी पिस्टल से खुद के सिर में गोली मार ली थी। हरप्रीत सिंह प्राइवेट सिक्योरिटी आफिसर का काम करता है। हरप्रीत सिंह को घायल हालत में चीमा अस्पताल ले जाया गया था, जहां गंभीर हालत के चलते उसे पीजीआइ रेफर कर दिया था। वहां उसका इलाज चल रहा है।

वहीं दूसरी तरफ फेज-4 मोहाली की रहने वाली सरबजीत कौर ने आरोप लगाया था कि हरप्रीत सिंह उसे पांच महीने से परेशान कर रहा था। उसका आरोप था कि हरप्रीत ने खुद को शूट कर लिया था।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept