This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

पीके से झटका मिलने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अब शुरू की लंच डिप्लोमेसी

पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अ‍‍मरिंदर सिंह ने प्रशांत किशार से झटका मिलने के बाद लंच डिप्‍लोमेसी शुरू की है। वह अब लंच डिप्‍लोमेसी शुरू करेंगे। इसकी शुरूआत विधायकों से होगी।

Sunil Kumar JhaWed, 10 Jun 2020 08:24 AM (IST)
पीके से झटका मिलने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अब शुरू की लंच डिप्लोमेसी

चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने राजनीति रणनीतिकार प्रशांत किशाेर से झटका मिलने के बाद अपने मिशन 2022 को लेकर नई रणनी‍ति पर कार्य करना शुरू कर दिया है। अब उन्‍होंने लंच डिप्‍लोमेसी शुरू की है। वह लंच पर क्षेत्रवार विधायकों से मिलेंगे और 2022 में होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति को लेकर फीडबैक लेंगे।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंत्रियों के बाद विधायकों के साथ लंच डिप्लोमेसी शुरू की है। वैसे उन्होंने कुछ दिन पूर्व ही घोषणा की है कि वह 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेंगे, लेकिन उनके इस कदम से कयासों के बाजार गर्म हो गए हैं। मंगलवार को मुख्यमंत्री ने अमृतसर के विधायकों के साथ मुलाकात की।

अमृतसर के विधायकों से मिले मुख्यमंत्री, मंत्रियों को बुला चुके हैैं लंच पर

विधायक लंबे समय से मुख्यमंत्री से मिलने के लिए समय मांग रहे थे। मुख्यमंत्री ने कैबिनेट मंत्री सुखबिंदर सिंह सरकारिया, विधायक राजकुमार गुप्ता, इंदरबीर सिंह बुलारिया, सुनील दत्ती आदि से मुलाकात की। अमृतसर के अलावा फतेहगढ़ साहिब के विधायक कुलजीत नागरा भी थे। इस दौरान राज्य में सियासी हलचल और कोविड-19 को लेकर चर्चा हुई।

मुख्यमंत्री ने विधायकों से मुलाकात कर उस धारणा को तोडऩे की कोशिश की कि वह मिलते नहीं हैं। आम तौर पर विधायकों की शिकायत रहती थी कि वह मिलते नहीं हैं। इस बैठक की जानकारी मुख्यमंत्री ने ट्विटर पर भी शेयर की। बताया जाता है कि कैप्‍टन अमरिंदर ने मिशन 2022 को लेकर विधायकों से फीडबैक लिया, ताकि  अगले चुनाव के लिए रणनीति इसके अनुरूप बनाया जाए।

विधायकों से नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर भी हुई चर्चा

जानकारी के मुताबिक विधायकों से मुलाकात के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर भी चर्चा हुई। सिद्धू के आम आदमी पार्टी में जाने की चर्चा के बाद विधायक राजकुमार वेरका ने कहा था कि सिद्धू कहीं नहीं जा रहे हैं। सिद्धू इस बात को लेकर नाराज हैं कि कांग्रेस सरकार ने बरगाड़ी बेअदबी कांड की जांच और राज्य में ड्रग्स को लेकर कारगर कदम नहीं उठाए। माना जा रहा है कि विधायकों से मुलाकात का सिलसिला अब मुख्यमंत्री के रूटीन में शामिल होने जा रहा है क्योंकि विधानसभा चुनाव के लिए डेढ़ साल का समय ही रह गया है।

------

कैप्टन के नेतृत्व मेंं ही लड़ा जाएगा विधानसभा चुनाव: जाखड़

दूसरी ओर कांग्रेस के प्रदेश प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा है कि 2022 का विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के ही नेतृत्व में लड़ा जाएगा। निश्चित रूप से पार्टी और लोगों की भावनाएं कैप्टन के साथ जुड़ी हुई हैं, लेकिन अंतिम फैसला पार्टी हाईकमान को ही लेना है।

जाखड़ का यह बयान काफी महत्वपूर्ण है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पिछले दिनों आगामी चुनाव लड़ने के संकेत दिए थे, तो दूसरी तरफ राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने उनके लिए चुनाव में रणनीति बनाने से इन्कार कर दिया। इसके बाद यह कयास लगाए जाने लगे थे कि क्या कैप्टन अब भी अपने फैसले पर कायम रहेंगे। पार्टी स्तर पर भी मुख्यमंत्री को आगमी चुनाव लडऩे के लिए समर्थन मिला है।

अकाल तख्त के जत्थेदार द्वारा खालिस्तान को लेकर दिए बयान की निंदा करते हुए जाखड़ ने कहा कि असली मुद्दा तो यह है कि अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल क्या सोच रहे हैं? आवाज भले ही  जत्थेदार की हो, लेकिन सोच सुखबीर बादल की है। उन्होंने कहा कि क्या अब भारतीय जनता पार्टी पंजाब में अकाली दल से रिश्ता तोड़ेगी?

यह भी पढ़ें: एक उद्यमी की अनोखी कहानी: 10वीं में फेल हुए तो घर से भागे, कई रात भूखे सोए, अब तीन देशों में कारोबार

यह भी पढ़ें: आर्थराइटिस की दवा से होगा कोरोना के मरीज का इलाज, PGI में शुरू हुआ ट्रायल

 

यह भी पढ़ें: बगैर मास्क पहने गेट से एंट्री की तो बजेगा अलार्म, कंट्रोल रूम में भी पहुंचेगा अलर्ट

 

यह भी पढ़ें:  गायब सिरी साहिब तीन साल संघर्ष के बाद मिली, SHO को तोहफे में दी बुलेट बाइक

 

यह भी पढ़ें: जजपा MLA गाैतम का दुष्‍यंत चौटाला पर फिर हमला, कहा-पहले मौसा, अब भतीजा खा रहा मलाई 

 

यह भी पढ़ें: गायें खाएंगी खास अचार और फिर बहेगी दूध की धार, हरियाणा के किसान ने किया तैयार

 

यह भी पढ़ें: मनोहर-दुष्यंत की जोड़ी बनाने जा रही बड़ा कानून, हरियाणवी युवाओं के लिए होगी जॉब की बारिश

 

यह भी पढ़ें: भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट के गुस्‍से पर सियासी बवाल, अफसर को चप्पल-थप्‍पड़ों से जमकर पीटा

यह भी पढ़ें: मास्‍क जरूर पहनें, लेकिन जानें किन बातों का रखना है ध्‍यान, अन्‍यथा हो सकता है हाइपरकेपनिया


पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Sunil Kumar Jha

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

चंडीगढ़ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!