क्रॉस वोटिंग को लेकर भिड़े एबीवीपी और सोई, दो के सिर फटे

क्रॉस वोटिग को लेकर एबीवीपी और सोई के बीच जमकर हाथापाई हो गई।

JagranPublish: Fri, 06 Sep 2019 10:28 PM (IST)Updated: Fri, 06 Sep 2019 10:28 PM (IST)
क्रॉस वोटिंग को लेकर भिड़े एबीवीपी और सोई, दो के सिर फटे

जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : छात्र संघ चुनाव में मतदान के दौरान पंजाब यूनिवर्सिटी के जूलॉजी डिपार्टमेंट में क्रॉस वोटिग को लेकर एबीवीपी और सोई के बीच जमकर हाथापाई हो गई। इसमें कड़े से हमले पर एबीवीपी के छात्र नेता विनोद सहित दो युवकों के सिर भी फट गए। पुलिस तुरंत दोनों घायलों को जीएमएसएच-16 में मेडिकल करवाने लेकर गई। प्राथमिक इलाज के बाद दोनों को छुट्टी मिल गई। दोनों पक्षों की शिकायत पर सेक्टर-11 थाना पुलिस जांच में लगी थी। डीएवी सेक्टर-10 के सामने वाली सड़क पर बेरिकेडिग के थोड़ी दूर आकर दूसरे कॉलेज से एक समर्थक बुलेट के पटाखे बजाने लगा। थाना प्रभारी नीरज सरना के नेतृत्व में पुलिस टीम ने चालक को पकड़ने को कोशिश की तो आरोपित हरियाणा नंबर की बाइक छोड़कर भाग निकला। इसके साथ डीएवी-10 से पुलिस टीम ने सुबह ही सुरक्षा व्यवस्था बिगाड़ने की आशंका में करीब 50 युवकों को गाड़ी में भरकर थाने बैठा दिया था। जिन्हें देर शाम रिजल्ट और जश्न के बाद छोड़ दिया। एसएसपी नीलांबरी जगदाले के नेतृत्व में छात्र संघ चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न करवाया गया। पीयू का गेट बंद, सभी कॉलेजों को 100 मीटर तक घेरा

चुनाव में मतदान से तीन घंटे पहले पंजाब यूनिवर्सिटी सहित सभी कॉलेजों में पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया। पीयू कैंपस का एक नंबर गेट बंद करने के साथ दो-तीन नंबर गेट पर पुलिसकर्मियों ने वेरिफिकेशन के बाद किसी को जाने की अनुमति दी। इसके अलावा सभी कॉलेजों को एरिया डीएसपी और थाना प्रभारी के नेतृत्व में 100 मीटर पहले से बेरिकेड्स लगाकर बंद किया गया था। इस दौरान ट्रैफिक पुलिस ने सभी कॉलेजों और पीयू कैंपस के बाहर ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वालों का चालान किया। छात्र नेता के अपहरण की कॉल, नहीं की लिखित शिकायत

सेक्टर-15 स्थित पीजी हाउस में रहने वाले एक छात्र नेता को जबरन चार-पांच युवकों द्वारा क्रेटा गाड़ी में बैठाकर अपहरण करने की कॉल पर एसएसपी नीलांबरी सहित डीएसपी और थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ भागे। थोड़ी देर बाद छात्र नेता ने सेक्टर-4 स्थित पेट्रोल पंप से राहगीर के मोबाइल से दोस्तों को कॉल की। उसने बताया कि युवकों ने उससे बोला कि दूसरे पैनल को वोट करना है और पेट्रोल पंप के पास छोड़ दिया। जिसके बाद दोस्त जाकर युवक को लेकर आए। एसएसपी ने बताया कि युवक ने आपसी बात बताकर लिखित शिकायत देने से मना कर दिया। नए मोटर व्हीकल एक्ट में सबसे महंगा चालान

हरियाणा नंबर की एचआर-32जी 1110 नंबर की बुलेट मौके पर छोड़कर भागने के मामले में डेंजर्स ड्राइविग, बुलेट के पटाखे बजाने, पुलिस द्वारा रोकने पर भागने के सेक्शन में बुलेट जब्त कर लिया। इसके अलावा बिना ड्राइविग लाइसेंस, आरसी, इंश्योरेंस और पॉल्यूशन भी लगाया गया है। इन सभी नियमों की उल्लंघना में नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत अभी तक का सबसे महंगा चालान बनेगा। हालांकि अगर वाहन चालक सभी दस्तावेज लेकर ट्रैफिक लाइन में पेश हो जाता है तो उसके पैसे कम हो जाएगा।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept