रैली व बैठकों में जाने से गुरजे करें लोग: सिविल सर्जन

कोविड-19 की तीसरी लहर के मद्देनजर जिले में वैक्सीनेशन कैंप लगाए जा रहे हैं।

JagranPublish: Fri, 28 Jan 2022 02:28 AM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 02:28 AM (IST)
रैली व बैठकों में जाने से गुरजे करें लोग: सिविल सर्जन

जासं,बठिडा: सेहत विभाग बठिडा की तरफ से सिविल सर्जन डा. बलवंत सिंह के नेतृत्व में कोविड-19 की तीसरी लहर के मद्देनजर जिले में वैक्सीनेशन कैंप लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा फ्लू कार्नर और मोबाइल टीमों से तरफ से कोविड-19 के संदिग्ध व्यक्तियों की सैंपलिग भी की जा रही है।

सिविल सर्जन डा. बलवंत सिंह ने बताया कि सेवा केंद्र ओट क्लीनिक बठिडा में सैंपलिग कैंप लगाया गया। डा. नवदीप सिंह, स्टाफ नर्स गगनदीप कौर और वार्ड अटैंडैट पवनदीप की देखरेख में दो टीमों की तरफ से 205 आरटीपीसीआर सैंपल लिए गए। हर रोज शेड्यूल अनुसार जीएनएम प्रशिक्षण स्कूल सरकारी अस्पताल बठिडा, सीएचसी और सब -सैंटरों पर टीकाकरन किया जा रहा है। इसके अलावा समाजसेवी संस्थाओं और धार्मिक संस्थाओं के सहयोग के साथ शहरों और गांवों में सेहत टीमों से तरफ से टीकाकरन किया जा रहा है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि यदि किसी व्यक्ति को खांसी, जुकाम, बुखार आदि की शिकायत हो या किसी पाजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आया हो, तो तुरंत कोविड संबंधी जांच करवाए, जिससे इसकी इफेक्शन को आगे फैलने से रोका जा सके। इसके अलावा घर से बाहर जाते समय मास्क का प्रयोग और सामाजिक दूरी को यकीनी बनाया जाए और हाथों की सफाई की तरफ भी विशेष ध्यान दिया जाए। रैली व बैठकों वाली जगह पर भी जाने से गुरेज किया जाए। उधर, पिछले कुछ दिन से रामा मंडी से लगातार मिल रहे कोरोना पाजिटिव मरीजों के चलते डीसी विनीत कुमार ने रिफाइनरी गेट व सरदूल कालोनी रामा मंडी को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को प्रतिदिन घर-घर जाकर सर्वे करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेट की अवधि कम से कम 14 दिन की होगी। पिछले एक सप्ताह में एक से अधिक नए मामले सामने नहीं आते हैं तो कंटेनमेंट जोन क्षेत्र को खोल दिया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी और इमरजेंसी सेवाओं से जुड़ी गतिविधियों की इजाजत होगी। अगर कोई इन आदेशों का उल्लंघन करता पाया गया तो उसके खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

वहीं दूसरी तरफ डीसी ने पिछले दिनों वेटनरी कालेज रामपुरा को कोविड-19 के मद्देनजर माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया था, अब वहां कोई नया मामला न मिलने पर वहां से माइक्रो कंटेनमेंट जोन हटा दिया गया है।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept