किसानों ने डीसी दफ्तर का किया घेराव

नरमा की फसल का मुआवजा लेने के लिए भारतीय किसान यूनियन उगराहां ने जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स के बाहर धरना लगाया।

JagranPublish: Thu, 27 Jan 2022 09:58 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 09:58 PM (IST)
किसानों ने डीसी दफ्तर का किया घेराव

जागरण संवाददाता, बठिडा: किसानों पर दर्ज केसों को रद करवाने और नरमा की फसल का मुआवजा लेने के लिए भारतीय किसान यूनियन उगराहां ने जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स के बाहर धरना लगाया। नेता जसवीर झुंबा ने कहा कि दिल्ली में चल रहा किसानों का संघर्ष खत्म हुआ था तो उस समय उनके साथ वादा किया था कि किसानों की सभी मांगों को पूरा कर दिया जाएगा, लेकिन आज तक सरकार जान बूझकर इन मांगों को लटका रही है। धिकारी अब चुनाव आचार संहिता लगी होने का बहाना बनाकर खराब फसल का मुआवजा नहीं दे रहे। जब पुराने समय में शुरू हुए काम पूरे हो सकते हैं तो किसानों को मुआवजा क्यों नहीं जारी किया जा सकता। जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता, तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा।

उधर, भुच्चो मंडी में भारतीय किसान यूनियन एकता (उगराहां) की तरफ से नरमे का मुआवजा न मिलने के विरोध में गणतंत्र दिवस के दिन बठिडा-जीरकपुर राष्ट्रीय मार्ग पर स्थित लहरा बेगा टोल प्लाजा पर जाम लगाया गया। बठिडा के तहसीलदार लखविंदर सिंह और नथाना के नायब तहसीलदार अवतार सिंह चट्ठा के आश्वाशन के बाद शाम लगभग छह बजे धरना उठाया गया।

भाकियू एकता (उगराहां) के जिला प्रधान शिगारा सिंह मान, मोठू सिंह कोटड़ा, सुखदेव सिंह जवंधा और होशियार सिंह ने कहा कि सरकारों की तरफ से मनाए जा रहे गणतंत्र दिवस के जश्न का उस समय कोई महत्व नहीं रह जाता, जब कामगार लोग अपने हकों के लिए सड़कों पर बैठे हों। नरमे की खराब हुई फसल के मुआवजे किए किसान दो महीने से संघर्ष कर रहे हैं। तहसीलदार और नायब तहसीलदार ने कहा कि था कि मुआवजे सबंधी लिस्ट एचडीएफसी बैंक के मैनेजर को पहुंचा दी हैं, पर मैनेजर का कहना है कि उनके पास कोई लिस्ट नहीं पहुंची। इस मौके पर लखवीर सिंह, अवतार सिंह, सिमरजीत सिंह, राम रत्न सिंह, बिकरमजीत सिंह, गुरमेल सिंह और सुखजीत कौर ने चेतावनी दी कि यदि आधिकारियों के भरोसे मुताबिक मुआवजा राशि जल्दी किसानों के खातों में न डाली गई, तो संघर्ष की और तीखी रूप रेखा बनाई जाएगी।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept