ओमिक्रोन के खतरे का अलर्ट: आज से घर-घर शुरू होगा टीकाकरण, रेलवे स्टेशन पर भी होगी सैंपलिंग

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के दक्षिण भारत में मरीज मिलने के बाद पूरे देश में इसे फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने आदेश दिए हैं।

JagranPublish: Fri, 03 Dec 2021 10:00 AM (IST)Updated: Fri, 03 Dec 2021 10:00 AM (IST)
ओमिक्रोन के खतरे का अलर्ट: आज से घर-घर शुरू होगा टीकाकरण, रेलवे स्टेशन पर भी होगी सैंपलिंग

नितिन धीमान, अमृतसर: कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के दक्षिण भारत में मरीज मिलने के बाद पूरे देश में इसे फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने आदेश दिए हैं। ऐसे में जिले में भी सेहत विभाग ने सैंपलिंग बढ़ाने और अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करने के लिए तैयारी शुरू कर दी है।

इसके तहत शुक्रवार से स्वास्थ्य विभाग की टीमें वार्ड वाइज टीकाकरण मुहिम शुरू करने जा रही हैं। शहर के 85 वार्डो में घर-घर दस्तक देकर ये टीमें टीकाकरण करेंगे और एक माह मे शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने का प्रयास करेंगी।

इस अभियान को सरअंजाम तक पहुंचाने के लिए शुक्रवार से स्वास्थ्य विभाग की टीमें जुटेंगे। आज वार्ड 58 व 70 में टीकाकरण होगा। सिविल सर्जन डा. चरणजीत सिंह के अनुसार सभी 85 वार्डों के पार्षदों से संपर्क किया जा रहा है। पार्षद के साथ टीमें वार्डो में जाएंगी। यदि वार्ड में कम्युनिटी हाल है तो वहां कैंप लगाया जाएगा अन्यथा टीमें घरों में जाकर टीकाकरण करेंगी।

इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग ने अब सैंपलिग तेज कर दी है। पूर्व में प्रतिदिन औसतन तीन हजार सैंपल लिए जा रहे थे, जबकि अब इनकी संख्या पांच हजार की गई है। वीरवार को 4200 लोगों के सैंपल लिए गए हैं।

दूसरे राज्यों या पाकिस्तान से आने वाले लोगों का कोविड सैंपल लिया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने वीरवार को अटारी सीमा व रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य कर्मियों को तैनात कर दिया गया। इन कर्मियों ने 500 से अधिक लोगों के सैंपल लिए और जांच के लिए भेजे। इसके अतिरिक्त स्कूलों व केंद्रीय जेल में भी सैंपलिग की जा रही है। अभी 19,78,051 लोगों को लगी वैक्सीन

जिले में 18 लाख 45 हजार लोगों को पूर्णत: सुरक्षा कवच पहनाना है। यानी इन्हें दोनों डोज लगाई जाएंगी। अब तक 19,78,051 डोज लगाई गई हैं। इनमें से 13,72,299 को पहली, जबकि 6,05,752 ने दोंनो डोज लगवाई हैं। अब तक 1,579 गर्भवती महिलाओं व 2,196 स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को भी टीके लगाए गए हैं। पहली डोज लगवाने वाले 64 प्रतिशत हैं, जबकि दूसरी डोज वाले 36 प्रतिशत। हम लगातार प्रयास कर रहे हैं कि जो लोग दूसरी डोज लगवाने नहीं आ रहे, उन तक पहुंचा जाए। सर्दी की वजह से जो लोग विशेषत: बुजुर्ग घरों से बाहर नहीं आ रहे, इस वजह से टीकाकरण की रफ्तार में बीच बीच में गिरावट दर्ज की जा रही है। इटली से आई फ्लाइट के 285 यात्रियों के हुए टेस्ट, सभी की रिपोर्ट रही नेगेटिव

वहीं जिला प्रशासन की टीम की ओर से वीरवार को भी एयरपोर्ट पर यात्रियों के कोविड टेस्ट किए। इटली आई फ्लाइट में करीब 300 यात्री थे। इनमें से पांच साल से कम आयु वाले बच्चों का टेस्ट नहीं किया गया। बाकी करीब 285 यात्रियों के टेस्ट किए गए। फिलहाल सभी की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई। टेस्ट प्रक्रिया पूरी करने के लिए यात्रियों को करीब छह घंटे तक एयरपोर्ट के अंदर ही रूकना पड़ा। गौर हो कि एयरपोर्ट अथारिटी ने नई गाइडलाइन जारी करते हुए जिला प्रशासन के साथ मीटिग की थी और इसके बाद इटली, लंदन और बर्मिंघम से आने वाले सभी यात्रियों के टेस्ट करना अनिवार्य कर दिया था। वातावरण को स्वच्छ रखने की शपथ ली

नेशनल प्रदूषण कंट्रोल दिवस के मौके पर श्री गुरु रामदास इंटरनेशनल एयरपोर्ट अथारिटी की ओर से वातावरण को साफ रखने के लिए कसम खाई। यह दिन भोपाल गैस त्रासदी में मारे गए लोगों की याद में मनाया जाता है। इसके तहत एयरपोर्ट भी सभी से निवेदन किया गया कि हर कोई वातावरण को साफ रखने के लिए लगातार प्रयास करे। इसके साथ ही आज के ही दिन विश्व कंप्यूटर शिक्षा दिवस को भी मनाया गया। एयरपोर्ट डायरेक्टर वीके सेठ ने कहा कि आज के समय में हर किसी को कंप्यूटर की जानकारी होना बेहद जरूरी है।

Edited By Jagran

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept