शाहनवाज हुसैन ने बैंकों को दिया निर्देश, इथेनॉल कंपनियों को जल्द से जल्द ऋण उपलब्ध कराएं

शाहनवाज हुसैन ने बैंकों के प्रतिनिधियों से कहा कि इथेनॉल उद्योग बिहार का भविष्य संवारने वाला है और बिहार में इथेनॉल उद्योग लगाने जा रही कंपनियों को ऋण उपलब्ध कराने में देरी बिहार के तेज गति से औद्योगिकीकरण के लक्ष्य पर असर डाल रही है।

Sanjeev TiwariPublish: Fri, 25 Mar 2022 06:39 PM (IST)Updated: Fri, 25 Mar 2022 06:39 PM (IST)
शाहनवाज हुसैन ने बैंकों को दिया निर्देश, इथेनॉल कंपनियों को जल्द से जल्द ऋण उपलब्ध कराएं

पटना, एजेंसी। राजधानी पटना में राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की 80वीं त्रैमासिक बैठक में बिहार के इथेनॉल उद्योग का मुद्दा छाया रहा। उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने बैठक में शामिल राज्य के सभी शीर्ष बैंकों के प्रतिनिधियों से कहा कि इथेनॉल उद्योग बिहार का भविष्य संवारने वाला है और पहले चरण में बिहार में इथेनॉल उद्योग लगाने जा रही कंपनियों को ऋण उपलब्ध कराने में देरी बिहार के तेज गति से औद्योगिकीकरण के लक्ष्य पर असर डाल रही है।

शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार की 17 कंपनियों ने तेल मार्केटिंग कंपनियों से इथेनॉल आपूर्ति का करार कर लिया है लेकिन अभी तक सिर्फ 3 इथेनॉल कंपनियों की ऋण आवेदनों की फाइलें आखिरी मुकाम तक पहुंच पाई हैं। बिहार सरकार के मंत्री शाहनवाज हुसैन ने सोशल मीडिया एप कू पर एक वीडियो शेयर कर लिखा कि बड़ी मुश्किल से हम बिहार में इथेनॉल उद्योग खड़ा होने की कोशिश में हैं।

Koo App

बड़ी मुश्किल से हम बिहार में इथेनॉल उद्योग खड़ा होने की कोशिश में हैं- Shahnawaz Hussain https://youtu.be/H7sfY9pvtt4

View attached media content

- Syed Shahnawaz Hussain (@shahnawazhussain) 25 Mar 2022

राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक में उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने तत्काल ही सभी इथेनॉल कंपनियों के ऋण आवेदनों की समीक्षा करवाई और कहा कि बची हुई सभी कंपनियों को बिना किसी देरी के ऋण उपलब्ध कराई जाए जो बिहार के हित के लिए बेहद जरुरी है। शाहनवाज हुसैन के स्पष्ट निर्देश के बाद बैंकों की तरफ से भरोसा मिला कि एक से दो हफ्ते में बिहार में पहले चरण में इथेनॉल ईकाईयों की स्थापना करने जा रही लगभग सभी कंपनियों के ऋण आवेदनों को स्वीकृत मिल जाएगी।

बिहार के वित्तमंत्री तारकिशोर प्रसाद की अध्यक्षता में हुई राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की 80वीं त्रैमासिक बैठक में बिहार का सीडी रेशियो सुधारने पर भी जोर दिया गया। उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार के औद्योगिक विकास में बैंकों की भूमिका अहम है और बिहार का समग्र औद्योगिकीकरण तभी संभव हो पाएगा। जब बैंकों की तरफ से राज्य में छोटे बड़े सभी तरह के उद्योगिक ईकाइयों की स्थापना के लिए आसान ऋण उपलब्ध कराने में उदारता और तेजी दिखाई जाएगी।

Edited By Sanjeev Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept