कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लोगों तक पहुँचाना सरकार का लक्ष्य - सरवीन चौधरी

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी ने कहा कि लोगों को कुशल प्रशासन देने और जन कल्याणकारी योजनाओं को पात्र लोगों तक पहुँचाना ही सरकार का लक्ष्य है ताकि गरीब लोग उनका लाभ उठा सकें। सरवीण चौधरी शाहपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत सुधेड़ में सम्बोधित कर रही थीं।

Manoj KumarPublish: Sun, 29 May 2022 01:50 PM (IST)Updated: Sun, 29 May 2022 01:50 PM (IST)
कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लोगों तक पहुँचाना सरकार का लक्ष्य - सरवीन चौधरी

धर्मशाला, जागरण संवाददाता। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी ने कहा कि लोगों को कुशल प्रशासन देने और जन कल्याणकारी योजनाओं को पात्र लोगों तक पहुँचाना ही सरकार का लक्ष्य है, ताकि गरीब लोग उनका लाभ उठा सकें। सरवीण चौधरी शाहपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत सुधेड़ व ग्राम पंचायत धीमा में महिला मंडलों को चेक वितरण करने के उपरांत उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रही थीं।  इस दौरान उन्होंने सुधेड़ में 3 महिला मंडलों तथा धीमा में 4 महिला मंडलों को विधायक निधि से 10-10 हजार के चेक देकर सम्मानित किया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं, कमजोर वर्गों के उत्थान, किसानों की समृद्धि, महिलाओं की सुरक्षा हेतु वचनवद्ध है। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक खेती-खुशहाल किसान योजना ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं के लिए वरदान साबित हो रही है। इस योजना का लाभ उठाकर जहां महिलाएं आत्मनिर्भर होने लगी हैं, वहीं आम लोगों को भी स्वास्थ्यवर्धक सब्जियां मिलने लगी हैं।

सरवीन ने कहा कि वर्तमान सरकार के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में आरम्भ की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं और विकासात्मक कार्यक्रमों से प्रदेशवासी लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की किसान सम्मान निधि योजना, आयुष्मान भारत योजना, उज्ज्वला योजना, आदि से प्रदेश के लाखों लोग लाभान्वित हुए हैं। इसी तरह राज्य सरकार की योजनाओं मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, सहारा योजना, मुख्यमंत्री हिमकेयर योजना, मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना से राज्य के हर व्यक्ति को लाभ प्राप्त हुआ है।

सरवीन ने कहा कि राज्य सरकार ने महिलाओं के लिए हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में किराये में 50 प्रतिशत की छूट और घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट तक प्रतिमाह निःशुल्क बिजली देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में निःशुल्क पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आंगनबाडी सहायिकाओं और आशा कार्यकर्ताओं के मासिक मानदेय में वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि सिलाई अध्यापिकाओं, मिड-डे-मील वर्कर्ज, जलवाहकों (शिक्षा विभाग) के मानदेय में भी वृद्धि की गई है।

सरवीण ने बताया कि 108 लाख की लागत से कैंट नाला पुल बनकर तैयार हो चुका है जिसमें 3 पंचायतों करेरी, खड़ी व रावा के लगभग तीन हजार लोग लाभान्वित होंगे । धीमा पनियारी बस्ती सड़क का कार्य शुरू हो गया है जिसपर 1 करोड़ 65 लाख रुपये व्यय होंगे। मैटी में सामुदायिक भवन की दूसरी मंजिल 4 लाख से बन कर तैयार हो चुकी है । इसके अलावा नागन पट्ट में उप स्वास्थ्य केंद्र का कार्य शुरू कर दिया गया है जिसपर 44 लाख रुपये खर्च होंगे।

उन्होंने बताया कि धर्मशाला सब डिवीजन के अंतर्गत अप्पर सुधेड़ में 6 लाख की लागत से धार में 63 केवीए ट्रांसफार्मर स्थापित करने का कार्य पूरा हो चुका है जिसमें 1 फेज व 2 फेज की लाइन को 3 फेज में बदलने के लिए 3 लाख रुपये व्यय होंगे जिसका कार्य प्रगति पर हैं ।100 केवीए ट्रांसफार्मर को 250 केवीए बदलने के लिए 4 लाख की राशि व्यय होगी और यह कार्य भी प्रगति पर है। सब डिवीजन चड़ी के अंतर्गत सुधेड़ में 100 केवीए का नया ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है जिसमें लगभग 7 लाख रुपये व्यय होंगे । इसके अलावा शिवनगर में 100 केवीए का नया ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है जिसमें लगभग 5 लाख रुपये व्यय किये जा रहे हैं ।

उन्होंने कहा कि एशियन डवेलमैंट बैंक की सहायता से 16 करोड़ रुपए की लागत से लिफ्ट वॉटर सप्लाई स्कीम बनाई जा रही है जिससे भत्तला, सुधेड़ व कजलोट तीन पंचायतों लाभान्वित होंगी और इस योजना के अंतर्गत 1836 नल लगाने का प्रावधान है। उन्होंने बताया कि गांव ओडर में 100 केवीए का नया ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है जिसमें लगभग 10 लाख रुपए व्यय किए जायेंगे। गांव झिकड़ में 8 लाख रुपए की लागत से 63 केवीए का नया ट्रांसफार्मर स्थापित किया जाएगा। गांव वंगरेड़ (बन्डी चौक) में 63 केवीए का नया ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा जिसपर 12 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने ग्राम पंचायत सुधेड़ में पंचायत घर के शेड के लिए 2 लाख रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने मेटी पंचायत के धीमा गांव में ग्राउंड में डंगा लगाने के लिए 5 लाख और शेड के लिए 2 लाख रुपए देने की घोषणा की।

इसके उपरांत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने सुधेड़ व धीमा में लोगों की समस्याओं को सुना। अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया और शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए ।इस अवसर पर एसडीओ लोनिवि विवेक कालिया, एसडीओ विद्युत जितेंद्र प्रकाश, एसडीओ जलशक्ति संदीप सिंह गुलेरिया, जेई विद्युत मानव पठानिया, जेई लोनिवि किशन कुमार, चेयरमैन विजय चौधरी, प्रधान ग्राम पंचायत सुधेड़ रेखा, उपप्रधान महिंद्र सिंह, बीडीसी सदस्या अनुराधा, प्रधान ग्राम पंचायत घरोह तिलक शर्मा, उप प्रधान ग्राम पंचायत धीमा नेक राज, बीडीसी सदस्य संजु सहित काफी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित थे।

Edited By Manoj Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept