President Polls: सिर्फ द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा ही नहीं अब तक 56 उम्मीदवारों ने दाखिल किया नामांकन, राष्ट्रपति बनने के दौड़ में हैं ये भी

President Polls भारत के अगले राष्ट्रपति की कड़ी दौड़ में एक और प्रतियोगी राम कुमार शुक्ला हैं जो यह साबित करना चाहते हैं कि एक राष्ट्रपति के पास न्यूनतम सुविधाएं होनी चाहिए और लोगों की भलाई के लिए अधिकतम काम करना चाहिए।

Dhyanendra Singh ChauhanPublish: Mon, 27 Jun 2022 10:58 PM (IST)Updated: Tue, 28 Jun 2022 05:04 AM (IST)
President Polls: सिर्फ द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा ही नहीं अब तक 56 उम्मीदवारों ने दाखिल किया नामांकन, राष्ट्रपति बनने के दौड़ में हैं ये भी

नई दिल्ली, एएनआइ। देश को जल्द ही एक नया राष्ट्रपति मिलने वाला है। 18 जुलाई को राष्ट्रपति के चुनाव हैं। इसके लिए उम्मीदवारों के नामांकन की प्रक्रिया चल रही है। एनडीए की द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के यशवंत सिन्हा सहित कुल 56 उम्मीदवारों ने सोमवार शाम तक आगामी राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल किया है। राज्यसभा सचिवालय के पास उपलब्ध आंकड़ों से जानकारी सामने आई है।

लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड धारक पद्मराजन भी शामिल 

मुर्मू और सिन्हा के अलावा जिन लोगों ने नामांकन दाखिल किया है, उनमें लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड धारक पद्मराजन शामिल हैं। वह चुनाव लड़ने वालों में सबसे असफल प्रतियोगी में से एक है। वह अब तक 231 चुनावों में से किसी में भी जीत दर्ज नहीं कर पाए हैं।

 राम कुमार की चाहत है राष्ट्रपति बनकर लोगों की भलाई के लिए करें काम

भारत के अगले राष्ट्रपति की कड़ी दौड़ में एक और प्रतियोगी राम कुमार शुक्ला हैं, जो यह साबित करना चाहते हैं कि एक राष्ट्रपति के पास न्यूनतम सुविधाएं होनी चाहिए और लोगों की भलाई के लिए अधिकतम काम करना चाहिए।

अशोक कुमार ढींगरा राष्ट्रपति पद के लिए अपने को मानते हैं उपयुक्त उम्मीदवार

वहीं, अशोक कुमार ढींगरा ने कई संगठनों के साथ काम किया है जो सेना और सशस्त्र बलों के कल्याण के बारे में अपनी आवाज उठाते रहते हैं। इसलिए वे खुद को भारत के राष्ट्रपति पद के लिए उपयुक्त उम्मीदवार मानते हैं।

डीयू के प्रोफेसर भी शामिल 

दिल्ली विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर दया शंकर अग्रवाल भी उन 56 लोगों में शामिल हैं, जिन्होंने 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल किया है।

29 जून तक है राष्ट्रपति उम्मीदवारों का नामांकन

बता दें कि विशेष रूप से उम्मीदवारों को भारत के अगले राष्ट्रपति के लिए अपना नामांकन दाखिल करने के लिए केवल दो दिन और हैं। नामांकन की प्रक्रिया 29 जून को समाप्त हो जाएगी। 2017 के पिछले राष्ट्रपति चुनावों में में 106 उम्मीदवारों ने अपनी उम्मीदवारी दाखिल की थी।

18 जुलाई को चुनाव, 21 को नतीजे

गौरतलब है कि एनडीए की द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार (24 जून) को अपनी उम्मीदवारी दाखिल की है। विपक्ष के यशवंत सिन्हा ने सोमवार को अपना नामांकन दर्ज किया है। भारत के अगले राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को होगा और परिणाम 21 जुलाई को घोषित किए जाएंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त होगा।

Edited By Dhyanendra Singh Chauhan

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept